scriptcongress on rrb ntpc results BJP government ending job youth | BJP सरकार भर्तियां ख़त्म कर रही, आज का बेरोजगार युवा रेलवे ट्रैक पर बैठने को मजबूर - कांग्रेस | Patrika News

BJP सरकार भर्तियां ख़त्म कर रही, आज का बेरोजगार युवा रेलवे ट्रैक पर बैठने को मजबूर - कांग्रेस

RRB NTPC रिज़ल्ट आने के बाद से ही प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले लाखों युवा सड़कों पर प्रदर्शन करने को मजबूर हैं। इस मामले पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

लखनऊ

Updated: January 27, 2022 05:18:32 pm

RRB NTPC Results में घोटाले को लेकर पिछले दिनों काफी प्रदर्शन हो रहा है। रेलवे भर्ती को लेकर पटना व प्रयागराज में छात्रों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस तरह से हमने पिछले 48 घंटों में छात्रों पर लाठियां बरसते हुए देखी हैं, छात्रों को खून से लथपथ देखा है, वह शर्मनाक है। यह सभ्य समाज, लोकतंत्र पर धब्बा जैसा है और युवा पीढ़ी के खिलाफ बहुत बड़ी साजिश रची जा रही है।
shrinate_supriya_congress.jpg
करोड़ो युवा तैयारी करते हैं लेकिन हर भर्ती में घोटाला

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले जब बेरोजगारी सिर चढ़कर बोल रही थी, जो आज भी व्याप्त है, तब आनन-फानन में रेलवे ने एक नोटिफिकेशन जारी किया कि ग्रुप डी की नौकरियां भरी जाएंगी। इस देश के सवा करोड़ युवाओं ने उस फॉर्म को भरा, फीस दी, लेकिन तीन साल बाद भी आजतक भर्तियां नहीं हो पाई हैं। कहीं न कहीं सरकार की यह मंशा युवाओं को नौकरी देने की है ही नहीं। सरकार भर्तियों में पद ख़त्म करते जा रही है, परिणामस्वरूप आज युवा रेलवे ट्रैक पर बैठा है।
यह भी पढे : रेलवे रिज़ल्ट में फर्जीवाड़े पर बवाल: प्रयाजराज में 2 गिरफ्तार, अनावश्यक बल प्रयोग करने में 6 पुलिस वाले सस्पेंड

उन्होंने कहा, फ़रवरी 2019 में आए इस नोटिफिकेशन आधार पर सवा करोड़ युवाओं ने फॉर्म भरा, लेकिन फ़रवरी 2021 में तत्कालीन रेल मंत्री पियूष गोयल कहते हैं कि अभी एजेंसी नियुक्त की जा रही है और अब पता चलता है कि अब परीक्षा के नियम बदलने की बात चल रही है। परीक्षाओं को लटकाने का परिणाम युवा पीढ़ी भुगत रही है। यह सिर्फ बिहार और उत्तर प्रदेश का नहीं पूरे देश का मामला है कि भाजपा ने सिर्फ रोजगार को ख़त्म करने का काम किया है। नोटिफिकेशन आते हैं, परीक्षा होती है और धांधली के चक्कर में परीक्षा रद्द कर दी जाती है और न्यायालय में मामला लटक जाता है। एक ज़माने में रेलवे इस देश का सबसे बड़ा एम्प्लॉयर होता था, आज परीक्षा कराने में असमर्थ है। भाजपा सरकार नौजवानों के साथ खिलवाड़ कर रही है। ये सिर्फ बिहार या उत्तर प्रदेश का मामला नहीं है, आप देश के किसी भी कोने में चले जाइए, आज युवाओं के पास नौकरी नहीं है, क्योंकि 2 करोड़ रोजगार हर साल देने वालों, जिन्होंने वायदा किया था कि हर साल 2 करोड़ रोजगार देंगे और अभी तक 14 करोड़ से ज्यादा रोजगार दे चुके होते, उन्होंने सिर्फ रोजगार को नष्ट करने का, एक इंस्टीट्यूशनल वे में रोजगार को खत्म करने का काम किया है। रोजगार उनकी विफलता से खत्म हुआ है।
यह भी पढे : RLD चीफ जयंत चौधरी ने BJP को जवाब, बोले - मेरे साथ 700 परिवारों की भी जॉइनिंग

छात्रों के मुद्दों से जुड़े हर एक शांतिपूर्ण आंदोलन को कांग्रेस का समर्थन है। मैं बच्चों का रोष समझती हूँ, यह युवा पीढ़ी है, इन लोगों ने पैसा दिया, युवाओं ने अपनी जिंदगी के तीन साल इस परीक्षा की तैयारी में इस विश्वास के साथ दिए कि नौकरी मिल जाएगी। और अब इनको बोला जा रहा है कि शायद परीक्षा रद्द हो जाएगी। लेकिन इन युवाओं से में कहना चाहती हूँ कि जैसा कि हमारे नेता राहुल गांधी ने कहा, यह गांधी का देश है, जो सत्य और अहिंसा से चलता है। शांतिपूर्ण आंदोलनों के सामने बड़े-बड़े तानाशाहों ने घुटने टेके हैं। इसका उदाहरण किसान आंदोलन है, शांतिपूर्ण आंदोलन के आगे प्रधानमंत्री मोदी को अपना हठ छोड़ना पड़ा, किसानों के आंदोलन के आगे झुकना पड़ा। उसी का नतीजा है कि उनको तीन काले कृषि कानून वापस लेने पड़े।
उन्होंने कहा, 28 जनवरी को छात्रों का रेल रोको आंदोलन है, इसको कांग्रेस पार्टी का समर्थन है, इसको शांतिपूर्ण ढंग से करें क्योंकि गांधी के देश में हिंसा की लेशमात्र भी जगह नहीं है। भाजपा सरकार से मैं कहना चाहती हूँ कि जब आप बड़े-बड़े वादे करते हैं, जुमले करते हैं और उन वादों को पूरा नहीं करते हैं, तो आप वादा खिलाफी सिर्फ देश के खिलाफ नहीं बल्कि देश के युवाओं के साथ करते हैं। देश के युवा को सिर्फ और सिर्फ रोजगार चाहिए और भाजपा सरकार युवाओं के रोजगार की बात छोड़कर हर बात करती है। इस हांड़ कंपाने वाली ठंड में बिहार, उत्तर प्रदेश युवा दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार की सो रही सरकारों को जगाने के लिए रेलवे ट्रैक पर बैठे हैं। सरकार का काम लाठियां बरसाना, धमकाना, लहूलूहान करना नहीं, बल्कि संवाद स्थापित करना है।
उन्होंने कहा युवाओं को अपना आंदोलन शांतिपूर्ण ढंग से करना चाहिए, इसे कांग्रेस का समर्थन है। शांतिपूर्ण आंदोलन के आगे हार अंततोगत्वा दंभ की, अहंकार की और सरकार की ही होगी। यह देश के युवाओं के भविष्य का मामला है, भाजपा सरकार खिलवाड़ मत करे, इनके साथ हठ, अभिमान मत करे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.