scriptCongress spokesperson Vikas Srivastava press conference | गृह मंत्री शाह कांग्रेस को ’मोदी फोबिया’ से ग्रस्त बताना बंद करें: विकास श्रीवास्तव | Patrika News

गृह मंत्री शाह कांग्रेस को ’मोदी फोबिया’ से ग्रस्त बताना बंद करें: विकास श्रीवास्तव

किसानों के बीच पुराना आक्रोश आज भी सुलग रहा है। MSP, फ्री बिजली इत्यादि अभी तक जुमला ही साबित हुआ है, किसान पुनः इन मुद्दों को लेकर व्यापक स्तर पर जल्द ही आंदोलन करने जा रहा है।

लखनऊ

Updated: July 03, 2022 08:00:23 pm

कांग्रेस प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने कहा कि गुजरात दंगों पर आये सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले से अति उत्साहित गृह मंत्री अमित शाह को याद रखना चाहिए कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी ने गुजरात दंगे के बाद अपने दौरे पर आयोजित प्रेसवार्ता में तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री मोदी की मौजूदगी में मीडिया से कहा कि “मोदी जी ने अपने राजधर्म का पालन नहीं किया’’। इसके उपरांत ही दुनिया भर में मोदी पर अल्पसंख्यक विरोधी और गुजरात दंगे को न संभाल पाने की नाकामी का आरोप लगना शुरू हो गया था। पिछले एक दशक तक अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी उनकी छवि को लेकर अमेरिका जैसे देशों की नकारात्मक प्रतिक्रिया मीडिया की सुर्खियों में देश पहले भी देख चुका है।
गृह मंत्री शाह कांग्रेस को ’मोदी फोबिया’ से ग्रस्त बताना बंद करें: विकास श्रीवास्तव
गृह मंत्री शाह कांग्रेस को ’मोदी फोबिया’ से ग्रस्त बताना बंद करें: विकास श्रीवास्तव

कांग्रेस प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने कहा कि गृह मंत्री श्री शाह कांग्रेस को ‘मोदी फोबिया’ से ग्रस्त बताना बंद करें और उनकी पार्टी बीजेपी को जो जन विश्वास हासिल हुआ है, उस पर खरे उतरने का कोई मजबूत रोडमैप तैयार करें। जम्मू कश्मीर मे धारा 370 खत्म करने की दुहाई देने वाली मोदी सरकार और गृह मंत्री अमित शाह जम्मू कश्मीर में, पिछले माह हुई एक दर्जन से ज्यादा कश्मीरी ब्राह्मणों की हत्या और वीभत्सता पर चुप्पी साधे हुए हैं।
कश्मीरी पंडितों के साथ बीजेपी की 1990 की गठबंधन सरकार में, फिर आज मोदी सरकार में पुनः वही नरसंहार, नफरत, आतंकी घटनाओं को अंजाम दिया गया और मोदी सरकार चुप है। गोदी मीडिया से यह असल मुद्दा ही नदारत है। नफरत विघटनकारी खबरों का मीडिया प्रचार प्रसार का इवेंट मैनेजमेंट ही मोदी सरकार की राष्ट्रीय पहचान बन चुका है और देशवासियों को वास्तविक मुद्दों से भटकाने का षड़यंत्र जारी है।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने कहा कि भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा के संबंध में सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी अत्यंत महत्वपूर्ण है और स्थिति की गंभीरता को स्पष्ट करती है। उन्होंने कहा देश के सामाजिक सौहार्द और वातावरण को बनाए रखने के लिए सरकार को निष्पक्षता के साथ कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए।
आज आक्रोशित युवाओं को धर्म, जाति, नफरत व विघटनकारी सोच से बाहर निकालने के लिए सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी के बाद तो निश्चित तौर पर प्रधानमंत्री मोदी जी और गृहमंत्री शाह को मीडिया के सामने आकर सौहार्द-प्रेम बनाए रखने की अपील करनी चाहिए। इसके साथ ही गृह मंत्रालय को भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा और नवीन कुमार जैसे नफरत भरी भाषाओं का प्रयोग करने वालों की गिरफ्तारी को लेकर सख्त और निष्पक्षता पूर्ण कदम उठाना चाहिए ।

काँग्रेस प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने कहा कि फसलों के उचित मूल्य हेतु MSP, आंदोलनकारी किसानों पर दर्ज आपराधिक मुकदमों को वापस लेने की मांग व लखीमपुर खीरी कांड जिसमें गृह मंत्री अजय मिश्रा के बेटे द्वारा गाड़ी से किसानों को कुचलने जैसी वीभत्स हिंसा भूलने वाले मुद्दे नहीं है। किसानों के बीच पुराना आक्रोश आज भी सुलग रहा है। MSP, फ्री बिजली इत्यादि अभी तक जुमला ही साबित हुआ है, किसान पुनः इन मुद्दों को लेकर व्यापक स्तर पर जल्द ही आंदोलन करने जा रहा है।
इसके साथ ही देश मे व्याप्त बेरोजगारी, सार्वजनिक उद्यमों के निजीकरण, बिक्रीकरण को लेकर भी देश के युवाओं किसानों, व्यापारियों में सामूहिक आक्रोश पनपता जा रहा। इसका ताजा उदाहरण अग्निपथ जैसी सेना भर्ती का क्रूर मजाक और सड़कों पर निकलता युवा आक्रोश किसी से छुपा नही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Independence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंIndependence Day 2022: लाल किले पर बना नया रिकार्ड, पहली बार मेड इन इंडिया तोप ने दी सलामी, जानें इसके बारे मेंPM मोदी ने विकसित भारत के लिए देश के सामने 5 प्रण रखा, भाई-भतीजावाद, परिवारवाद और भ्रष्टाचार को बताया चुनौतीIndependence Day 2022: मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोले-देश को क्या दे रहे हैं यह सोचकर जीने की जरूरत15 August 2022: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने 3 हेल्थ स्कीम किये लॉन्च , जानें इनके बारेस्वतंत्रता दिवस 2022: गूगल भी मना रहा भारत की आजादी का जश्न, पतंगों के साथ डूडल बनाकर भारत की संस्कृति को दर्शाया76th Independence Day 2022 : लाल किले से पीएम मोदी ने दिया नया नारास्वतंत्रता दिवस: वीरता पुरस्कारों से सम्मानित लोगों में सेना का कुत्ता 'एक्सल', पिछले महीने आतंकी मुठभेड़ में हुआ था ‘शहीद’
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.