Corona awareness 2020 : इस महामारी में माहवारी स्वच्छता से न करें समझौता

जरूरतमंदों तक सेनेटरी पैड पहुंचाएगा “समर्थ”

By: Ritesh Singh

Published: 24 May 2020, 05:20 PM IST

लखनऊ, Corona महामारी के संकट से हम सभी जूझ रहे हैं । ऐसे में इतने लम्बे समय से Lockdown में जरूरत की वस्तुएं भी मुश्किल से मिल पा रही हैं । इन्हीं में महिलाओं हेतु सेनेटरी पैड भी कई जगह उपलब्ध नहीं हो पा रहे, उसका बड़ा कारण यह भी है कि प्रोडक्शन में कमी है । ऐसे में hygiene के दौरान स्वच्छता बनाये रखना एक चुनौती है । महिलाओं व किशोरियों को स्वच्छता से कोई समझौता न करना पड़े, इस बात की गंभीरता को देखते हुए “समर्थ” संस्था के सचिव प्रवेश द्विवेदी एक पहल करने जा रहे हैं ।

इसके तहत वह जिन महिलाओं व किशोरियों को पैड नहीं मिल पा रहा है व उनके पास और कोई विकल्प भी मौजूद नहीं है, वह उन तक मुफ्त में पैड उपलब्ध कराएंगे । इसके लिए उनसे मोबाइल नंबर 7388034449 और [email protected] मेल आईडी पर संपर्क किया जा सकता है । संस्था महिलाओं व किशोरियों को कई ग्रामीण क्षेत्रों में व्यावसायिक कौशल प्रदान करने का काम कर रही है, साथ ही एनीमिया, व्यक्तिगत स्वच्छता और मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन जैसे मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने का कार्य कर रही है।

Menstrual hygiene प्रबंधन है जरूरी

hygiene में यदि स्वच्छता प्रबंधन नही किया तो कई तरह के संक्रमण होने का खतरा रहता है । अतः आपके पास इस समय मार्केट के उपलब्ध पैड नहीं है तो दूसरा बेहतर विकल्प सूती कपड़े के पैड का उपयोग सबसे अच्छा रहता है । सूती मुलायम कपड़े को पैड की तरह मोड़कर उपयोग करना चाहिए । हर दो घंटे में पैड बदलना चाहिए । उपयोग किये हुए पैड को साबुन व ठंडे पानी से अच्छे से धोना चाहिए व तेज धूप में सुखाना चाहिए । ऐसा करने से कीटाणु नष्ट हो जाते हैं । सूख जाने के बाद पैड को एक साफ़ धुली कपड़े की थैली में मोड़कर रखें । माहवारी में उपयोग किये गए पैड या कपड़े को खुले में नहीं फेंकना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से उठाने वाले व्यक्ति में संक्रमण का खतरा हो सकता है । हमेशा पैड को पेपर या पुराने अखबार में लपेटकर फेंकना चाहिये ।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned