scriptCorona new variant in India government plan to control corona third w | कोरोना नए वेरिएंट के खतरे के बीच, योगी ने लिया बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बंद करने के साथ उठाए ये कदम | Patrika News

कोरोना नए वेरिएंट के खतरे के बीच, योगी ने लिया बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बंद करने के साथ उठाए ये कदम

ब्रिटेन व नीदरलैंड की उड़ानों से बुधवार सुबह दिल्ली पहुंचने वाले चार भारतीयों की कोरोनावायरस रिपोर्ट पॉजटिव आई है जिसके बाद उन्हें राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। संक्रमित मरीजों के नमूने जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। सतर्कता बरतते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बंद कर दिया गया है। हालांकि 31 देशों के साथ एयर बबल व्यवस्था के तहत उड़ाने सक्रिय रहेंगी।

लखनऊ

Updated: December 02, 2021 08:18:13 am

लखनऊ. कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमेक्रोन को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार सतर्क है। योगी आदित्यनाथ की सरकार ने निर्देश दिए हैं कि एयरपोर्ट के साथ-साथ रेलवे व बस स्टैंड पर भी अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों की जांच कराई जाए। बिना जांच के कोई भी यात्री दूसरे राज्यों से उत्तर प्रदेश में न आ सके। 24 देशों में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट का प्रभाव देखा गया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने खतरे को देखते हुए उड़ानों को बंद कर दिया गया है। अब 15 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू किया जाएगा।
co.jpg
विदेश के लौटे भारतीय मिले संक्रमित

ब्रिटेन व नीदरलैंड की उड़ानों से बुधवार सुबह दिल्ली पहुंचने वाले चार भारतीयों की कोरोनावायरस रिपोर्ट पॉजटिव आई है जिसके बाद उन्हें राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। संक्रमित मरीजों के नमूने जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। सतर्कता बरतते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बंद कर दिया गया है। हालांकि 31 देशों के साथ एयर बबल व्यवस्था के तहत उड़ाने सक्रिय रहेंगी।
यात्री करा रहें जांच

सरकार के निर्देशों के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशा निर्देश को लागू कर दिया है। उत्तर प्रदेश के हवाई अड्डे पर आने वाले विदेशी यात्रियों की जांच कराई जा रही है। आंकड़ों की माने तो 80 फ़ीसदी यात्रियों ने रैपिड पीआर जांच कराई है रैपिड पीआर के लिए ₹3900 व आरटीपीसीआर के लिए ₹500 का भुगतान लिया जा रहा है।
बस व रेलवे स्टेशन पर भी होगी जांच

ओमेक्रोन के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रदेश में एयरपोर्ट के साथ-साथ बस व रेलवे स्टेशनों पर भी यात्रियों की आरटीपीसीआर जांच कराई जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि बिना जांच किसी भी यात्री को प्रदेश में प्रवेश न दिया जाए। उन्होंने जिनोम सीक्वेंसिंग की रफ्तार बढ़ाने, मास्कर को अनिवार्य करने, कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे देशों के साथ ही अन्य प्रदेशों से यूपी आ रहे व्यक्तियों की जांच की जाए। एयरपोर्ट, बस व रेलवे स्टेशन पर अतिरिक्त सतर्कता बढ़ती जाए। पहले चरण में अंतर राज्य कनेक्टिविटी वाले बस स्टेशनों पर जांच तेज की जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायासानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, बोलीं-'मेरा शरीर खराब हो रहा है'UP Assembly Elections 2022 : अखिलेश यादव ने कहा सपा की सरकार बनी तो महिलाओं को देंगे 1500 रुपये प्रति महीने पेंशनMaharashtra Nagar Panchayat Election Result: 106 नगरपंचायतों के चुनावों की वोटों की गिनती जारी, कई दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा दांव परOBC Reservation: ओबीसी राजनीतिक आरक्षण पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, आ सकता है बड़ा फैसलाUP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपी10 कंट्रोवर्शियल विधानसभा सीटें जहां से दिग्गज ठोकेंगे चुनावी ताल, समझें राजनीतिक समीकरणचीन की धमकी से डरा पाकिस्तान, चीनी इंजीनियरों को देना पड़ेगा अरबों का मुआवजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.