दो अप्रैल तक यूपी में सरकारी अध्यापकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों और अनुचरों की छुट्टी

- उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग की सचिव रूबी सिंह ने जारी किया बड़ा आदेश
- कक्षा एक से कक्षा आठ तक के सभी स्कूलों के लिए जारी हुआ आदेश
- कोरोना वायरस के चलते बेसिक शिक्षा परिषद ने लिया बड़ा फैसला

By: Hariom Dwivedi

Updated: 19 Mar 2020, 07:11 PM IST

लखनऊ. नोवेल कोरोना वायरस के चलते यूपी बेसिक शिक्षा परिषद ने बड़ा फैसला लिया है। उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग की सचिव रूबी सिंह ने गुरुवार को कक्षा एक से कक्षा आठ तक के सभी स्कूलों के लिए नया आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक, कक्षा एक से कक्षा आठ तक यूपी बोर्ड के सभी परिषदीय विद्यालय (सहायता प्राप्त, मान्यता प्राप्त) व अन्य बोर्ड के सभी विद्यालयों दो अप्रैल तक पूर्ण रूप से बंद रहेंगे। इस दौरान सरकारी अध्यापकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों और अनुचरों की छुट्टी रहेगी। उन्हें स्कूल आने की जरूरत नहीं है।

बेसिक शिक्षा विभाग की सचिव रूबी सिंह की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि यूपी में सभी बोर्डों के स्कूल दो अप्रैल तक पूरी तरह से बंद रहेंगे। इस दौरान विद्यालयों में किसी भी प्रकार की संगोष्ठी एवं बैठकों का आयोजन नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : योगी सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना के संदिग्ध प्राइवेट कर्मचारियों को छुट्टी में भी मिलेगी पूरी सैलरी

पर्यटन स्थल भी बंद
उत्तर प्रदेश में कोरोना के खतरे को देखते हुए सभी स्कूल-कॉलेज 2 अप्रैल तक बंद कर दिये गये हैं। मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघर भी 2 अप्रैल तक बन्द हैं। तहसील दिवस व जनता दर्शन कार्यक्रमों पर भी दो अप्रैल तक रोक लगा दी गई है। यूपी बोर्ड व राज्य की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। वहीं, पर्यटन स्थल भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे जो सिर्फ साफ सफाई के लिए ही खुलेंगे।

यह भी पढ़ें : यूपी में सभी प्रतियोगी परीक्षाएं स्थगित, धरना-प्रदर्शनों पर पूर्ण प्रतिबंध

दो अप्रैल तक यूपी में सरकारी अध्यापकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों और अनुचरों की छुट्टी
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned