उत्तर प्रदेश में काफी बिगड़े हालात, अब तो व्यवस्था संभालने वाले ही कोरोना की चपेट में

- Coronavirus in UP: सीएम योगी आदित्यनाथ के बाद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा पत्नी सहित संक्रमित

- कई जिलों के डीएम और पुलिस कप्तान भी पॉजिटिव

- सीएम की टीम के कई अफसर पहले से ही बीमार

- पंचायत चुनाव की ड्यूटी से लौटे 15 फीसदी पुलिसकर्मी संक्रमित

लखनऊ. coronavirus in UP: कोरोना की दूसरी लहर देश और दिल्ली के साथ ही उत्तर प्रदेश पर भी भारी पड़ रही है। यूपी के अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड की कमी से हालात संभलने की जगह लगातार बिगड़ रहे हैं। तो वहीं अब प्रदेश में व्यवस्था संभालने वाले ही कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री समेत कई दूसरे मंत्री और विधायक भी संक्रमित हो गए हैं। कई सीनियर आईएएस और आईपीएस अधिकारी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। आलम यह है कि कोरोना संक्रमितों की संख्या का आंकड़ा हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है और संक्रमण की जद में अब आम से लेकर खास तक सभी आ रहे हैं। इसी क्रम में अब उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा और उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।

डिप्टी सीएम और उनकी पत्नी भी संक्रमित

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और उनकी पत्नी होम आइसोलेशन में रहकर डॉक्टरों के परामर्श में अपना इलाज करा रहे हैं। डॉ दिनेश शर्मा ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी और लोगों से अपील की है कि पिछले कुछ दिनों में जो भी लोग उनके संपर्क में आए हों, वह सभी अपना जांच करवा लें और कोविड गाइडलाइन का पालन करें। डिप्टी सीएम डॉ. शर्मा ने ट्वीट करते हुए बताया कि मेरा और मेरी पत्नी के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। हम अपने आपको होम आइसोलेशन में करके चिकित्सकों के परामर्श का पूर्णतः पालन कर रहे हैं। मेरा आग्रह है कि पिछले कुछ दिनों में जो लोग मेरे संपर्क में आये हैं, वो भी जांच करा लें व कोविड गाईड लाईन का अक्षरशः अनुपालन करें।

ब्यूरोक्रेसी में भी पहुंचा कोरोना संक्रमण

यूपी में कोरोना का संक्रमण ब्यूरोक्रेसी में भी पहुंच गया है। यूपी सरकार के एक दर्जन से ज्यादा आईएएस अधिकारी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। सीएम योगी की टीम के कई अफसर पहले से ही बीमार हैं। प्रमुख सचिव पीएस गोयल, सचिव अमित सिंह और ओएसडी अभिषेक कौशिक संक्रमण का शिकार हैं। तो इनके अलावा सीएम के सरकारी आवास के स्टाफ के भी दो लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनके अलावा वित्त सचिव संजय कुमार और विशेष सचिव समेत वित्त विभाग के करीब 20 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। राजस्व परिषद के अध्यक्ष दीपक त्रिवेदी, कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव बीएल मीना, नगर विकास के एसीएस डॉ. रजनीश दुबे, सीएम ऑफिस के प्रमुख सचिव एसपी गोयल, श्रम विभाग के अपर मुख्य सचिव सुरेश चंद्रा, उच्च शिक्षा विभाग की एसीएस आराधना शुक्ला, खाद्य एवं रसद नागरिक आपूर्ति विभाग की प्रमुख सचिव वीणा कुमारी, सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव अनिल गर्ग और विशेष सचिव प्रशांत शर्मा, मुख्य सचिव के स्टाफ अफसर अमृत त्रिपाठी और हमीरपुर समेत तीन जिलों के डीएम कोरोना पॉजिटिव आए हैं। यूपी में उन्नाव, कासगंज और सोनभद्र के कप्तान भी कोरोना की जद में आ गए हैं।

15 फीसदी पुलिसकर्मी संक्रमित

पंचायत चुनावों से लौटे पुलिस कर्मियों में से 10 से 15 फीसदी पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाये गए हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण को रोकने के साथ ही पुलिस कर्मियों को कोरोना संक्रमण से बचाने की बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है। इसको देखते हुए सूबे के बड़े पुलिस अधिकारियों ने जहां सभी थानों, चौकियों, पुलिस लाइन और कार्यालयों में कोविड हेल्प डेस्क बनाई गई है। वहीं नियमित सेनैटाइजेशन के भी निर्देश दिये हैं। निर्देशों के मुताबिक थानों, चौकियों और पुलिस लाइन में ड्यूटी से लौट रहे पुलिसकर्मियों की थर्मल स्कैनिंग और ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन लेवल की जांच की जा रही है। पुलिस कर्मियों के कोविड पॉजिटिव आने पर उन्हें क्वारेंटाइन किया जा रहा है और कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन कराया जा रहा है। ताकि कोरोना का संक्रमण पुलिस फोर्स में फैलने से रोका जा सके।

यह भी पढ़ें: स्टेट बैंक में नहीं है अकाउंट तो तुरंत खुलवा लें, SBI अपने खाताधारकों को दे रहा 2 लाख रुपये का सीधा फायदा

coronavirus
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned