कोरोना की जांच अब केवल पांच मिनट में

अभी तक कोरोना वायरस की जांच में लग रहे थे 48 घंटे...

लखनऊ. अब यूपी में तीन से पांच मिनट में ही कोराना वायरस के बारे में पता चल जाएगा। जल्द ही यहां कोरोना संदिग्ध मरीजों की रैपिड टेस्टिंग किट्स (आरटीके) कोविड-19 जांच की सुविधा शुरू होगी। यूपी में पांच लाख किट मंगाई जाएंगी।

यूपी में अब तक हजारों नमूनों की जांच हो चुकी है। अभी जांच रिपोर्ट के लिए छह से आठ घंटे का इंतजार करना पड़ रहा है। परिवार कल्याण विभाग के महानिदेशक डॉ. बद्री विशाल ने बताया कि संक्रमण वाले जिलों में किट भेजी जाएंगी। बीते शुक्रवार को केजीएमयू में विभागाध्यक्षों की बैठक में रैपिड किट की सुविधा उपलब्ध कराए जाने पर चर्चा हुई थी। कुलपति डॉ. एमएलबी भट्ट ने कहा कि यह सुविधा कोरोना वार्ड में ड्यूटी करने वाले डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ के लिए वरदान साबित होगी।

मेडिकल स्टोर पर नहीं बिकेगी किट

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने रैपिड टेस्टिंग किट्स कोविड-19 को मंजूरी दे दी है। जिस प्रकार से प्रेग्नेंसी जांचने के लिए किट होती है, उसी प्रकार से यह किट भी होगी। खास बात यह है कि मेडिकल स्टोरों पर उपलब्ध नहीं होगी। जिन अस्पतालों में कोरोना वायरस की जांच हो रही है या जिन्हें सरकार ने अधिकृत किया है। वहीं पर यह किट उपलब्ध होगी।

यह भी पढ़ें: बांग्लादेशी जमातियों ने मेडिकल स्टाफ के साथ की अभद्रता, अस्पताल में मचाा हंगामा

Show More
नितिन श्रीवास्तव Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned