कुछ ऐसा होगा इलाहाबाद राज्य विश्विद्यालय, जानिए प्रमुख बातें

कुछ ऐसा होगा इलाहाबाद राज्य विश्विद्यालय, जानिए प्रमुख बातें

Prashant Srivastava | Publish: Jun, 17 2016 12:01:00 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

 सीएम ने लॉन्च की वेबसाइट

लखनऊ. संगम नगरी इलाहबाद में बना राज्य विश्विद्यालय 17 जून से शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। गुरुवार को सीएम अखिलेश यादव ने लखनऊ में इसकी वेबसाइट www.alld-stateuniversity.org को लॉन्च किया। इस विवि में इसी सत्र से दाखिले लिए जाएंगे। इसमें इलाहाबाद, फतेहपुर, प्रतापगढ़, कौशांबी के 462 कॉलेज संबद्ध किए जाएंगे।  ये काॅलेज वर्तमान में छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर तथा डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद से सम्बद्ध हैं।

शुरुआत में होंगे यह कोर्सेज

प्रो. राजेन्द्र प्रसाद ने कहा कि इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय का स्थायी कैम्पस नैनी में 120 एकड़ भूमि पर बनाया जाएगा। इसके लिए उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (यूपीएसआईडीसी) ने भूमि आरक्षित कर दी है। उन्होंने बताया कि इस विश्वविद्यालय के कैम्पस में ही जनेश्वर मिश्र पुस्तकालय भी स्थापित किया जाएगा। इस उच्चस्तरीय लाइबे्ररी का संचालन इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय द्वारा ही किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह विश्वविद्यालय रेजीडेन्शियल कम एफिलिएटिंग विश्वविद्यालय होगा। प्रथम चरण में इस विश्वविद्यालय में ह्यूमैनिटीज, सोशल साइंसेज, इण्टरनेशनल स्टडीज, काॅमर्स और मैनेजमेण्ट आदि विषयों की पढ़ाई छात्र-छात्राओं को उपलब्ध होगी।

विवि में होगी मेडिकल की पढ़ाई

नए खुल रहे इलाहाबाद राज्य विवि में मेडिकल कॉलेज की सुविधा दिए जाने की घोषणा के बाद अब यहां के लोगों को इलाहाबाद विश्वविद्यालय से मेडिकल कॉलेज के अलग किए जाने की टीस को दूर किया जा सकेगा। इलाहाबाद विवि को केंद्रीय विवि का दर्जा मिलने से पहले और इसके बाद में धीरे-धीरे करके कृषि संकाय (एग्रीकल्चर इंस्टीट्यूट), इंजीनियरिंग कॉलेज (एमएनएनआईटी) एवं मेडिकल कॉलेज (मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज) को अलग कर दिया गया। इस कारण से इलाहाबाद विवि में लंबे समय से मेडिकल, कृषि एवं इंजीनियरिंग संकाय खोलने की मांग की जा रही है।

Ad Block is Banned