पहले लूट, फिर अपहरण इसके बाद फेंका

धान बेंचकर जा रहे थे किसान एक लाख 20 हजार की लूट.

By:

Published: 15 Jan 2018, 04:38 PM IST

औरैया. जनपद के विधूना कोतवाली क्षेत्र के गांव दौड़ापुर के पास देर रात बोलेरो सवार आधा दर्जन बदमाशों ने असलहों के दम पर पहले किसानों को लूटा और उनको अपने साथ ले गए। रात भर अपने साथ रखा इसके बाद तड़के सुबह सिरसागंज के पास फेंक गए। इस घटना से क्षेत्र में दहशत फैल गई है। उनके मुताबिक धान बेचकर दोनो से 1.20 लाख रुपये व ट्रैक्टर ट्राली लूट ली। बदमाश चालक व किसान को बोलेरो में डाल ले गए। उन्हें फिरोजाबाद के सिरसागंज में जाकर फेंक दिया। दोपहर को दोनों किसानों ने बिधूना कोतवाली पहुंच कर घटना की जानकारी दी।
एरवाकटरा थाना क्षेत्र के गांव कायस्थान निवासी रामविदेश पुत्र राम सिंह अपने ट्रैक्टर ट्राली पर धान लाद कर बेचने के लिए शनिवार को मैनपुरी गए थे। उनके साथ किरकिचियापुर निवासी रिश्तेदार शैलेंद्र पुत्र राकेश भी थे। धान बेचने के बाद दोनों रात को ट्रैक्टर ट्राली से वापस आ रहे थे। इस दौरान बिधूना कोतवाली क्षेत्र के गांव दौड़ापुर के पास एक बोलेरो सवार आधा दर्जन बदमाशों ने ओवरटेक कर ट्रैक्टर रोक लिया।

पेट्रोल पंप कर्मचारियों को घटना की जानकारी दी

असलहों के दम पर दोनों को अपने कब्जे में ले लिया। उनसे 1.20 लाख रुपये लूट लिए और मारपीट कर दोनों को बोलेरो में डाल लिया। एक बदमाश ट्रैक्टर-ट्राली लेकर चला गया। इसके बाद बदमाश दोनों को बोलेरो में डालकर लेकर चले गए। उन्हें भोर में फिरोजाबाद के सिरसागंज के पास फेंक दिया। दोनों किसी तरह बंधन मुक्त होने के बाद एक पेट्रोल पंप पर पहुंचे। वहां उन्होंने पेट्रोल पंप कर्मचारियों को घटना की जानकारी दी और परिजनों को फोन पर सूचना दिलाई।

वहीं के थाने में मुकदमा दर्ज किया जाएगा

इस पर परिजन सिरसागंज पहुंच गए। वह दोनों को लेकर दोपहर को बिधूना कोतवाली पहुंचे। वहां पुलिस को घटना की जानकारी दी। कोतवाली प्रभारी अखिलेश मिश्रा ने यह कहकर तहरीर लेने से मना कर दिया कि नए शासनादेश के अनुसार जहां बदमाशों ने पीड़ित को फेंका है। वहीं के थाने में मुकदमा दर्ज किया जाएगा। उन्होंने दोनों को सिरसागंज जाकर मुकदमा दर्ज कराने की सलाह देकर टरका दिया। इसके बाद दोनों सिरसागंज थाने चले गए।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned