सीएम के आह्वान पर उद्यमियों ने भरी हामी- स्वच्छता अभियान और संस्कृत विद्यालयों के लिए देंगे पूरा सहयोग

सीएम के आह्वान पर उद्यमियों ने भरी हामी- स्वच्छता अभियान और संस्कृत विद्यालयों के लिए देंगे पूरा सहयोग

Anil Ankur | Publish: Sep, 11 2018 02:12:36 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कार्पोरेट सोशल रिसपांसबिलिटी कॉन्क्लेव 2018

ललित खेतान ने दिया 51 लाख का चेक

लखनऊ। कार्पोरेट सोशल रिसपांसबिलिटी कॉन्क्लेव 2018 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जैसे ही उद्यमियों से सामाजिक कार्य में सहयोग करने के लिए आह्वान किया वैसे ही उद्यमियों ने उनसे मदद का पूरा वादा किया। उद्योगपति ललित खेतान ने 51 लाख रुपए का चेक दिया और सीआईआई ने स्वच्छता अभियान और संस्कृति विद्यालयों को नया जीवन देने में पूरा सहयोग करने की घोषणा की।

योग्य योजक के रूप में आगे आएं उद्योगपति
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उद्यमियों को चाहिए वे योग्य योजक के रूप में आगे आएं। इसके लिए उन्हें अपने आपको स्थापित करना होगा कि वे सफल व योग्य योजक हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोई संस्था नकारात्मक गतिविधियों को रोकना चाहती है तो उन कार्यों में सरकार की मदद करे, जिससे सकारात्मकता बढ़े। उन्होंने कहा कि अगर कोई संस्था पार्क बनवाती है तो वह स्थान लोगों के घूमने और टहलने के काम में आएगा। पौधों से शुद्ध वायु उन्हें स्वच्छ वायु देगी। लोगों की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होगी। वे जिम बनवा दें। लोग वहां व्यायाम करेंगे। स्वस्थ्य होंगे तो भी उनकी नकरात्मकता खत्म होगी।

मरीजों के लिए सरकार तो तीमार दारों के लिए सीएसआर
मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर मरीजों के इलाज करने के लिए सरकार अस्पताल बनवाती है, मरीज तो अंदर बेड पर आ जाता है और परेशान होते हैं उनके तीमारदार। उन तीमारदारों के लिए सीएसआर के तहत ऐसी व्यवस्था की जाए कि लोग वहां आएं और मरीज को देखें। आराम से बैठ सकेें। साफ सुथरा माहौल होगा तो समृद्धता आएगी। ऐसे जेल के मुलाकातियों के लिए भी सीएसआर को बैठकें बनवानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सभ्य समाज में हम ऐसी व्यवस्था दे सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि 75जिले हैं वहां कौशल विकास का काम होता है। 350 तहसीलें हैं वहां भी यह काम हो रहा है, पर 830 ब्लाक हैं वहां पर कौशल विकास के लिए उद्यमियों को आगे आना होगा ताकि लोगों को निपुणता के साथ रोजगार भी मिले। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में एक सिलाई केन्द्र की निपुणता का उदाहरण भी दिया। भारतीय संस्कृति को बचा रहे संस्कृत विद्यालयों के उत्थान का आह्वान सीएम ने किया। उन्होंने कहा कि समाज स्वस्थ्य और समृद्धि तब होगा जब स्वच्छ होगा। इस अभियान में उद्यमियों को आगे आना होगा। उन्होंने ललित खेतान का धन्यवाद दिया।

स्वच्छता से लेकर एकेटीयू में मदद
ललित खेतान ने कहा कि वे स्वच्छता अभियान और एकेटीयू , कुंभ मेला और नदी सफाई में सहयोग दिए जाने का वादा किया वहीं सीआईआई के राष्ट्रीय महासचिव मनमोहन अग्रवाल ने स्वच्छता और संस्कृत विद्यालयों को दुरुस्त कराने की हामी भरी। उद्योग मंत्री सतीश महाना ने सबको धन्यवाद दिया। इस मौके पर मुख्यसचिव अनूप चंद्र पांडये, मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और रीता बहुगुणा जोशी भी मौजूद थीं।

Ad Block is Banned