Dengue : लखनऊ में बढ़ा डेंगू का खतरा, एक दिन में मिले 25 मरीज

Dengue- उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी डेंगू मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है, प्रदेश में डेंगू से अब तक 150 से ज्यादा लोगों की मौत, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि लोग घबराएं नहीं बल्कि बचाव के उपायों का पालन करें। नगर निगम ने फॉगिंग और साफ-सफाई जैसी व्यवस्था तेज कर दी है

By: Hariom Dwivedi

Published: 14 Oct 2021, 04:17 PM IST

लखनऊ. Dengue- उत्तर प्रदेश के लोग इन दिनों डेंगू के डंक से परेशान हैं। प्रदेश भर के लोग इस बीमारी से परेशान हैं। अब तक करीब 200 लोगों की मौत हो चुकी है। अब राजधानी लखनऊ में भी डेंगू मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है। रोजाना यहां औसतन एक दर्जन मरीज मिल रहे हैं। बीते 45 दिनों में लखनऊ में डेंगू के करीब 500 मरीज मिले हैं। बुधवार को यहां एक दिन 25 नये मरीज मिले जो एक दिन में अब तक की सबसे ज्यादा संख्या है। इनमें 12 महिलाएं, 10 पुरुष और 03 किशोर शामिल हैं। ज्यादातर मामले अलीगंज, एनके रोड, चिनहट, इंदिरा नगर, तुरियागंज, ऐशबाग और चिनहट जैसे उच्च क्षेत्रों से सामने आए हैं। माल और काकोरी में डेंगू के मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि लोग घबराएं नहीं बल्कि बचाव के उपायों का पालन करें। नगर निगम ने फॉगिंग और साफ-सफाई जैसी व्यवस्था तेज कर दी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मनोज अग्रवाल ने कहा, 'हम व्यापक मच्छर नियंत्रण गतिविधियां कर रहे हैं, विशेष रूप से ज्यादा मामलों वाले क्षेत्रों से। इसके अलावा, संक्रामक रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत, स्वास्थ्य कार्यकर्ता जागरूकता फैलाने और चिकित्सा किट वितरित करने के लिए घर-घर जा रहे हैं।'

27 घरों में मिले डेंगू के लार्वा
डेंगू के मामलों में बढ़ोतरी के पीछे स्वच्छता की कमी और पानी के संचय को मुख्य कारण बताया जा रहा है। डेंगू वायरस की वाहक मादा एडीज इजिप्टी मच्छर घरों में और आसपास कई जगहों पर जमा ताजे पानी में अंडे देती है। गोमती नगर, बालागंज, मल्लाह टोला, निशातगंज और अन्य इलाकों में 2,713 साइटों को स्कैन करने के बाद 27 घरों में इसके लार्वा पाए गए।

अब 150 से ज्यादा मौतें
बीते एक महीने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश और रुहेलखंड में हर दिन बुखार से लोगों की मौत हो रही है। अकेले मथुरा में अब तक 150 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। बड़ी संख्या में लोग बीमार हैं। इनमें अधिकतर बच्चे हैं। फर्रुखाबाद, गाजियाबाद, कानपुर और उन्नाव सहित करीब एक दर्जन जिलों के कई गांवों में सैकड़ों लोग बीमार हैं। सबसे चिंताजनक तो यह है कि विचित्र बुखार से पीड़ित लोगों की प्लेटलेट्स भी कम हो रही हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर मलेरिया रोधी छिड़काव भी किया जा रहा है, लेकिन मच्छर दिन दूने रात चौगुने बढ़ रहे हैं।

डेंगू से बचाव के तरीके
- सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें
- फुल आस्तीन वाले कपड़े पहनें
- घर के आसपास गंदा पानी न जमा होने दें
- खाना ढक कर रखें, बाहर का खाना

यह भी पढ़ें : पश्चिमी यूपी से लेकर बुंदेलखंड, रुहेलखंड और मध्य यूपी में लोग विचित्र बीमारी से पीड़ित, हर दिन जा रही जान

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned