महिलाओं और किशोर-किशोरियों का वैक्सीनशन न कराए जाने पर भड़कीं:उप निदेशक

- उप निदेशक महिला कल्याण अनु सिंह ने तत्काल 18 वर्ष से ऊपर की महिलाओं और किशोर किशोरियों का वैक्सीनशन कराए जाने के दिये निर्देश।

- कानपुर, प्रयागराज, अयोध्या मंडलों के राजकीय गृहों का किया गया निरीक्षण।
- समस्त गृहों में आवासित बच्चों व महिलाओं की व्यक्तिगत देख रेख योजना की जांच की गई।

By: Ritesh Singh

Published: 11 Jun 2021, 09:26 PM IST

लखनऊ, प्रदेश के राजकीय गृहों में उच्चाधिकारियों द्वारा किये जा रहे निरीक्षण के अंर्तगत मुख्यालय से उपनिदेशक महिला कल्याण प्रेमवती, अनु सिंह, आशुतोष कुमार, पुनीत मिश्रा तथा बी0एस0 निरंजन द्वारा अयोध्या, प्रयागराज, कानपुर तथा लखनऊ मंडलों के गृहों का किया गया दौरा। इस दौरान लखनऊ स्थित पाश्चातवर्ती देखरेख संगठन-बालक, कानपुर, इटावा तथा अयोध्या स्थित महिला शरणालय व संप्रेक्षण गृह- किशोर तथा प्रयागराज स्थित संप्रेक्षण गृह-किशोर व बालगृह बालिका का निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान प्रयागराज संप्रेक्षण गृह-किशोर में टेबिल टेनिस खेलने की सुविधा उपलब्ध थी जबकि इसका उपयोग नहीं किया जा रहा है। उप निदेशक पुनीत कुमार मिश्रा ने प्रभारी अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से बच्चों के खेलकुद की व्यवस्था करने हेतु निर्देशित किया गया। कानपुर स्थित महिला शरणालय में महिलाओं का वैक्सिनेशन ना होने पर उप निदेशक अनु सिंह ने नाराजगी दिखाते हुये आगामी सप्ताह में इसे सुनिश्चिित कराने के निदेर्श दिये।

जबकि अयोध्या संप्रेक्षण गृह में निरंतर किशोरों का कोविड टेस्ट कराया जा रहा है 8 जून को आई रिपोर्ट में सभी किशोरों की रिपोट नेगेटिव आने और निरंतर जनपद में संस्थाओं को सेनेटाइज़ किये जाने पर उप निदेशक आशुतोष सिंह ने संतुष्टि जताई। अन्य संस्थाओं में स्थिति सामान्य पाई गई।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned