#Dhanteras 2017: 19 साल बाद बन रहा शुभ संयोग, शाम को करें पूजा, यह होगा लाभ

#Dhanteras 2017: 19 साल बाद बन रहा शुभ संयोग, शाम को करें पूजा, यह होगा लाभ
Dhanteras 2017

Shatrudhan Gupta | Updated: 14 Oct 2017, 01:03:24 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

Dhanteras 2017 धनतेरस देशवासियों के लिए और खास है, क्योंकि इस धनतेरस पर पांच शुभ योग बन रहे हैं, जो काफी लाभ देने वाले हैं।

लखनऊ. दीपावली से पहले Dhanteras धनतेरस का पड़ेगा, जो लोगों के लिए खास होता है। क्योंकि, यह दिन अबूझ मुहूर्त (अत्यंत शुभकारी) माना जाता है। इस बार धनतेरस 17 अक्टूबर को पड़ रहा है, इसलिए लोग घर में नया चीज लाने के लिए अभी से प्लान बना रहे हैं। इस बार धनतेरस देशवासियों के लिए और खास है, क्योंकि इस Dhanteras 2017 पर पांच शुभ योग बन रहे हैं, जो काफी लाभ देने वाले हैं। ज्योतिषियों की मानें तो यह पांच शुभ योग 19 साल बाद बन रहा है। इसलिए लोग अपने घर में धन व सुख-समृद्धि की कामना के साथ इस बार भी कुछ नया खरीदने का प्लान बना रहे हैं।

धनतेरस सुबह से देर रात तक मंगलकारी ( Mangalkari Dhanteras 2017)

काशी के ज्योतिषाचार्य पंडित अमित वाशिमकर के मुताबिक इस बार का धनतेरस लोगों को काफी लाभ पहुंचाने वाला है। क्योंकि, इस बार 19 साल बाद पांच शुभ योग बन रहा है, जो लोगों को फायदा पहुंचाएगा। अमित वाशिमकर के अनुसार इस योग में शुभ कार्य, लेन-देन, खरीदारी शुभ माना जाता है। ज्योतिषाचार्य पंडित अमित वाशिमकर के मुताबिक 17 अक्टूबर को शाम के समय प्रदोष काल (सांय कालीन पूजा के बाद) ज्वेलरी, इलेक्ट्रॉनिक सामान, बर्तन, बाइक, फोर व्हीलर और लक्ष्मी-गणेश की प्रतिमा का खरीदारी का विशेष महत्व होता है। काशी के ज्योतिषाचार्य पंडित अमित वाशिमकर के मुताबिक इस बार Dhanteras 2017 पर मंगलवार और प्रदोष का होना अति शुभ है। धनतेरस सुबह से देर रात तक मंगलकारी और लाभदायक रहेगा।

धनतेरस पर ये पांच योग बन रहे हैं (Panch Yoga on Dhanteras 2017)

1. चंद्रमा-मंगल की कन्या राशि में युति रहने पर लक्ष्मी योग बनेगा।

2. सूर्य और बुध के भी इसी राशि में रहने बुधादित्य योग रहेगा।

3. रात में सूर्य के राशि परिवर्तन करने से तुला संक्रांति योग बनेगा।

4. धरतेरस के दिन सूर्योदय से सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा।

5. शाम को प्रदोष रहेगा। शाम को पूजा करने से सभी दोष दूर होंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned