Kartik Mass 2018: कार्तिक में करें तुलसी की पूजा, खुल जाएंगे हर सुहागन के भाग्य

जमीन पर सोने से मन में अच्छे विचार आते हैं साथ ही मन के दूषित विकार दूर भागते हैं।

 

By:

Updated: 02 Nov 2018, 06:29 PM IST

लखनऊ. कार्तिक मास का बड़ा महत्व है। वैसे तो हिंदू धर्म में तुलसी पूजा का विशेष महत्व है, लेकिन कार्तिक मास में तुलसी पूजन का महत्व और भी बढ़ जाता है। कार्तिक महीने के समान कोई महीना नहीं है। इस मास में स्नान का भी बड़ा महत्व माया गया है। पुराणों में बताया गया है कि कार्तिक माह धर्म, अर्थ, काम एवं मोक्ष को देने वाला है। कार्तिक मास में तुलसी की पूजा विशेष फल देने वाला होता है। अपने प्रतिव्रता धर्म के कारण ही श्रीहरि की पूजा में तुलसी को विशेष स्थान मिला है। इस मास में तुलसी की पूजा करने से आपको कई लाभ के साथ कई जन्मों के पापों से भी मुक्ति मिलती है।

इसी मास में मां लक्ष्मी धरती पर भ्रमण करती हैं
कार्तिक मास में जमीन पर सोने से मन में अच्छे विचार आते हैं साथ ही मन के दूषित विकार दूर भागते हैं। कार्तिक मास में ही भगवान विष्णु योगी निद्रा से जागते हैं और सृष्टि में आनंद और कृपा की वर्षा होती है। इसी मास में मां लक्ष्मी धरती पर भ्रमण करती हैं और भक्तों को अपार धन देती हैं। कहते हैं कि यह महीना श्री हरि को पसंद है यही कारण है कि मां लक्ष्मी को भी यह महीना अत्यंत प्रिय है।

कथा इस प्रकार
पद्मपुराण में तुलसी के जन्म की एक कथा बताई गई है जिसमें तुलसी पूर्व जन्म में वृंदा थीं और जालंधर राक्षस की पत्नी थीं, उसके अत्याचारों के कारण से भगवान विष्णु ने जालंधर का वध किया था। इससे दुखी वृंदा को भगवान विष्णु ने वरदान दिया था कि वह उनकी प्रिया बनेंगी।

तुलसी जी को इन उपायों से करें प्रसन्न
-तुलसी के चारों ओर दीपदान करें।
-घी का दीप और धूप दिखाने के साथ ही सिंदूर, रोली, चंदन और नैवेद्य चढ़ाएं।
- तुलसी के साथ आंवले का गमला लगाएं। तुलसी का पंचोपचार सर्वांग पूजा करें।
- दशाक्षरी मंत्र से तुलसी का आवाह्न करें।
-ये है मंत्र -श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं वृन्दावन्यै स्वाहा।
- रंगोली से अष्टदल कमल बनाएं। साथ ही शंख,चक्र और गाय के पैर बनाएं।
- तुलसी जी को वस्त्र चढ़ाने के बाद फिर लक्ष्मी अष्टोत्र या दामोदर अष्टोत्र पढ़ें।
- तुलसी के पौधे के चारों तरफ स्तंभ बनाकर उस पर तोरण सजाएं।

 

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned