scriptElections Commission banned Exit polls in up elections till 7 march | चुनाव आयोग ने पांचों राज्यों मे 10 फरवरी से 7 मार्च तक एग्जिट पोल पर लगाई रोक, नियम तोड़ने पर होगा एक्शन | Patrika News

चुनाव आयोग ने पांचों राज्यों मे 10 फरवरी से 7 मार्च तक एग्जिट पोल पर लगाई रोक, नियम तोड़ने पर होगा एक्शन

UP Elections 2022 में बड़ी घोषणा करते हुए चुनाव आयोग ने साफ कर दिया है कि 'एक्ज़िट पोल दिखाने वालों को 2 साल तक की जेल हो सकती है। इसलिए 10 फरवरी से लेकर 7 मार्च तक किसी भी प्रकार के सर्वे और एक्ज़िट पोल पर रोक लगा दी है।

लखनऊ

Updated: January 29, 2022 09:31:07 pm

UP Assembly Elections में चल रहे चुनावी घमासान के बीच अब चुनाव आयोग ने भी एक बड़ा फैसला लिया है। जिसमें किसी भी प्रकार से एक्ज़िट पोल को लेकर चर्चा पर 10 फरवरी से 7 मार्च तक रोक लगा दी है। चुनाव आयोग का ये फैसला इस लिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि कई विपक्षी पार्टियों ने भाजपा सरकार पर सोशल मीडिया और कई चैनलों के माध्यम से लगातार सर्वे और एक्ज़िट पोल पर चर्चा करा रहे थे। इसकी शिकायत कई बार सपा और बसपा ने चुनाव आयोग से कर रहे थे।
Symbolic Photo of Elections Exit Poll
Symbolic Photo of Elections Exit Poll
न्यूज़ चैनल या अखबारों मे एक्ज़िट पोल दिखाया तो 2 साल की जेल

प्रिंट या फिर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर किसी भी तरह का एग्जिट पोल नहीं चलाया जाएगा. यूपी के मुख्य चुनाव अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने जारी बयान में कहा है कि एग्जिट पोल पर फरवरी 10 सुबह सात बजे से मार्च 7 को शाम साढ़े छह बजे तक बैन रहने वाला है. ना तो एग्जिट पोल प्रिंट मीडिया के जरिए छापा जाएगा और ना ही इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर इसे दिखाने की इजाजत रहेगी. जो भी इस नियम का पालन नहीं करेगा, उसे दो साल तक की जेल हो सकती है. उस पर भारी जुर्माना भी लगाया जा सकता है.
10 फरवरी को पहले चरण का मतदान

आपको बताते चलें कि चुनाव आयोग ने 7 चरण में यूपी चुनाव कराने का फैसला लिया है। जिसमें अभी तक तीसरे चरण का पर्चा दाखिल करने की प्रक्रिया हो पाई है। वहीं 10 फरवरी को पहले चरण का मतदान होगा।
यह भी पढे : BJP के चाचा-भतीजे को टक्कर देंगी सपा की देवरानी जेठानी

7 चरणों के चुनाव में 10 मार्च को रिज़ल्ट , पहले चरण का चुनाव 10 फरवरी को
उत्तर प्रदेश में पहले चरण के मतदान के लिए 14 जनवरी को अधिसूचना जारी हो चुकी है। वहीं नामांकन की आखिरी तारीख 21 जनवरी थी। 27 जनवरी तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकते हैं। उत्तर प्रदेश में पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा। जिसमें 11 जिलों शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, हापुड़, गाजियाबाद, नोएडा, बुलंदशहर, मथुरा, आगरा और अलीगढ़ की 58 सीटों पर मतदान किए जाएंगे।
दूसरे चरण का चुनाव

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण के मतदान के दौरान 21 जनवरी को अधिसूचना जारी करने के साथ ही 28 जनवरी को नामांकन की आखिरी तारीख रखी गई है। इसके साथ ही उम्मीदवार 31 जनवरी तक अपना नाम वापस ले सकते हैं। वहीं उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण का चुनाव 14 फरवरी को किया जाएगा। इस दौरान 9 जिलों सहारनपुर, बिजनौर, अमरोहा, संभल, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बदायूं और शाहजहांपुर की 55 सीटों पर मतदान होगा।
तीसरे चरण का चुनाव

उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण के चुनाव में सबसे ज्यादा 16 जिलों की विधानसभा सीटों पर चुनाव होंगे। इसके लिए चुनाव आयोग ने 25 जनवरी को अधिसूचना की तारीख तय की है। वहीं नामांकन की आखिरी तारीख 1 फरवरी होगी, जिसमें नाम वापसी के लिए उम्मीदवारों को 4 फरवरी तक का समय मिलेगा, वहीं तीसरे चरण का मतदान 20 फरवरी के दिन संपन्न कराया जाएगा। इस दौरान उत्तर प्रदेश के 16 जिलों कासगंज, हाथरस, फिरोजाबाद, एटा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, कन्नौज, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी और ललितपुर की 59 सीटों पर मतदान होगा।
चौथे चरण का चुनाव

उत्तर प्रदेश में चौथे चरण का मतदान 23 फरवरी को किया जाएगा। इस दौरान उत्तर प्रदेश के 9 जिलों पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली, फतेहपुर और बांदा की 60 सीटों पर मतदान होगा। जिसके लिए 27 जनवरी को अधिसूचना जारी की जाएगी. नामांकन की तारीख का अंतिम दिन 3 फरवरी तय किया गया है। वहीं 7 फरवरी तक उम्मीदवार स्वेच्छा से अपना नाम वापस ले सकते हैं।
पाँचवें चरण का चुनाव

उत्तर प्रदेश में पांचवें चरण का मतदान 27 फरवरी को होगा। इस दौरान 11 जिलों श्रावस्ती, बहराइच, बाराबंकी, गोण्डा, अयोध्या, अमेठी, सुलतानपुर, प्रतापगढ़, कौशांबी, चित्रकूट और प्रयागराज की 60 सीटों पर मतदान किया जाएगा। इसके लिए चुनाव आयोग 1 फरवरी को अधिसूचना जारी करेगा। वहीं 8 फरवरी तक उम्मीदवार अपना नामांकन कर पाएंगे। वहीं 11 फरवरी तक नाम वापसी का मौका दिया गया है।
छठवें चरण का चुनाव

छठवें चरण के दौरान उत्तर प्रदेश में 10 जिलों बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, बस्ती, संत कबीर नगर, आंबेडकर नगर, गोरखपुर, देवरिया और बलिया में 3 मार्च को वोटिंग होगी। इस दौरान 57 सीटों पर मतदान होगा। इसके लिए चुनाव आयोग 4 फरवरी को अधिसूचना जारी करेगा। उम्मीदवार के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 11 फरवरी होगी। जिसमें नाम वापसी के लिए उसे 16 फरवरी तक का समय दिया गया है।
सातवें चरण का मतदान

उत्तर प्रदेश में सांतवा और अंतिम चरण का मतदान 7 मार्च को होगा। इस दौरान प्रदेश के 9 जिलों आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, जौनपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, गाजीपुर, चंदौली और सोनभद्र की 54 सीटों पर मतदान किया जाएगा। चुनाव आयोग इसके लिए 10 फरवरी को अधिसूचना जारी करेगा। सातवें चरण के लिए उम्मीदवार अपना नामांकन 17 फरवरी तक कर सकते हैं। वहीं 21 फरवरी को नाम वापसी की अंतिम तारीख होगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाबिहार की सीमा जैसा ही कश्मीर के परवेज का हाल, रोज एक पैर पर कूदते हुए 2 किमी चलकर पहुंचता है स्कूलकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहाOla, Uber, Zomato, Swiggy में काम करके की पढ़ाई, अब आईटी कंपनी में बना सॉफ्टवेयर इंजीनियरपंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.