खतरे में थी 162 यात्रियों की जान, विमान में था सिर्फ 10 मिनट का ईंधन, तीन बार बदले एयरपोर्ट

खतरे में थी 162 यात्रियों की जान, विमान में था सिर्फ 10 मिनट का ईंधन, तीन बार बदले एयरपोर्ट

Karishma Lalwani | Updated: 17 Jul 2019, 03:03:41 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- लैंडिंग से पहले विमान यात्रियों को परेशानी

- खराब मौसम के कारण तीन बार बदला एयरपोर्ट

- विमान में था 10 मिनट का ईंधन

लखनऊ. मुंबई से दिल्ली के लिए उड़ान भरने वाली विस्तारा फ्लाइट 162 यात्रियों की सांसे खराब मौसम की वजह से अटकी रहीं। मौसम खराब होने की वजह से विमान को कई जगह से डायलर्ट किया गया। दिल्ली में मौसम खराब होने पर विमान को लखनऊ डायवर्ट किया गया। लेकिन यहां भी मौसम खराब होने पर विमान को कानपुर भेजा गया। मगर जब यहां भी मौसम खराब होने की जानकारी मिली, तो विमान प्रयागराज रवाना हो गया। इस तरह लैंडिंग के लिए विमान ने तीन एयरपोर्ट के चक्कर काटे।

30 मिनट बाद उतरा विमान

तीन दफा एयरपोर्ट बदलने के चक्कर में विमान का ईंधन खत्म हो गया। सिर्फ 10 मिनट का तेल ही बचा था। मगर प्राथमिकता के आधार पर लैंडिंग जरूरी थी। करीब 30 मिनट बाद विमान लखनऊ रनवे पर उतर सका।

ये भी पढ़ें: 5599 में लखनऊ से सिंगापुर के लिए भरे उड़ान

एयरपोर्ट निदेशक एके शर्मा ने बताया कि पायलट के पास कम दृश्यता की तकनीक कैट-3बी का प्रशिक्षण नहीं था। ऐसे में उसे कानपुर भेजा गया। कानपुर में आंधी-बारिश शुरू हो जाने से फुल इमरजेंसी की घोषणा कर दी और विमान को किसी भी हवाई पट्टी पर उतारने की बात कही। लखनऊ एटीसी ने ईंधन कम होने और दृश्यता ठीक होने पर विमान को लखनऊ में लैंड करने को कहा। शाम करीब 6:50 पर विमान की लैंडिंग हुई।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned