डीएम से तोहफे पाकर आठ दिव्यांग बच्चों के चेहरे खुशी से खिले

जिले के विकास खण्ड कमालगंज के आठ दिव्यांग बच्चों के चेहरे खुशी से खिल उठे जब उन्हे उपहार में ट्राई साइकिल, बैशाखी मिली।

By: Mahendra Pratap

Published: 03 Dec 2019, 11:11 AM IST

फर्रुखाबाद. जिले के विकास खण्ड कमालगंज के आठ दिव्यांग बच्चों के चेहरे खुशी से खिल उठे जब उन्हे उपहार में ट्राई साइकिल, बैशाखी मिली। विकास खण्ड कमालगंज में सोमवार को जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने बीआरसी पहुंचकर पहले बच्चों से पढ़ाई के बारे में बातचीत की फिर आठ दिव्यांग बच्चों को ट्राई साइकिल,बैशाखी आदि दिए। उपकरण पाकर दिव्यांग बच्चों के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इसके बाद जिलाधिकारी ने कस्तूरबा गांधी विद्यालय में जाकर निरीक्षण किया। स्कूल में पढ़ रही छात्राओं से किताब लेकर कुछ प्रश्न पूछे। उसके बाद डीएम ने स्कूल की वार्डन और लेखाकार को निलंबित कर दिया क्योंकि स्कूल में मीनू के अनुसार बच्चों को भोजन नहीं दिया जा रहा था। परन्तु भुगतान मीनू के अनुसार बने भोजन का कराया जा रहा था। जांच में शिकायत सही पाई गई।

जिलाधिकारी ने खण्ड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आकस्मिक अवकाश स्वीकृत हुए बिना सीएल रजिस्टर में दर्ज न की जाए, यदि ऐसा पाया गया तो जिम्मेदार के विरूद्ध कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। जिलाधिकारी ने कक्षा आठ की छात्रा दीक्षा से किताब पढ़वाकर शिक्षा गुणवत्ता का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने छात्राओं से खान-पान की जानकारी ली। छात्राओं द्वारा मौके पर बताया गया कि विगत दिनों पहले वार्डेन के न होने कारण कुछ समस्याए थी पर अब खाना ठीक मिल रहा है। जिलाधिकारी ने रसोई घर का निरीक्षण किया। मौके पर रसोईयों द्वारा बताया गया कि आज छात्राओं के लिए आलू भुजिया, रायता, चावल, अरहर की दाल बनाई गई है। जिलाधिकारी ने स्वयं खाने की गुणवत्ता को चेक किया। शौचालय चेक किया गया। जिलाधिकारी ने छात्रा आवास में पुताई कराने के निर्देश दिए।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned