यमुना और आगरा के बाद अब पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरेंगे वायुसेना के फाइटर प्लेन, राफेल भी करेंगा लैंड

यूपी में यमुना एक्सप्रेस और फिर आगरा एक्सप्रेस-वे के बाद अब नया पूर्वांचल एक्सप्रेस वे भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों की लैंडिंग के लिए तैयार हो रहा है।

सुलतानपुर. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के रनवे पर फाइटर प्लेन उतारने की कवायद शुरू हो गई है। वायुसेना के एयर मार्शल ने खुद मौके पर पहुंचकर इसका निरीक्षण किया। वायु सेना और यूपीडा के अधिकारियों ने निर्माण कार्य का जायजा लिया और बैठक की। निरीक्षण करने पहुंचे वायुसेना में एयर मार्शल का हेलीकॉप्टर निर्माणधीन एयर स्ट्रीप पर ही लैंड कराया गया।

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरेंगे लड़ाकू विमान

आपको बता दें कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर स्थित सुलतानपुर ढोढवा गांव के पास लड़ाकू विमानों को उतरना है। आने वाले दिनों में राफेल को भी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर उतारा जा सकता है। इसी को लेकर भारतीय वायु सेना के एयर मार्शल राजेश कुमार के साथ एवीएसएम, वीएम एडीसी एयर ऑफिसर कमांड‍िंग इन चीफ, सेंट्रल एयर कमांड प्रयागराज के तकनीकी विशेषज्ञों की टीम ने हवाई पट्टी पर हेलीकॉप्टर लैंड कर करीब दो घंटे तक बारीकी से निरीक्षण किया। साथ ही यूपीडा के अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश भी दिये गए। इस मौके पर जिलाधिकारी रवीश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक शिवहरि मीणा, मुख्य अभियंता यूपीडा मनोज कुमार सिहं, मुख्य महाप्रबंधक यूपीडा एके पांडेय, अधिशाषी अभियंता यूपीडा एसके सुमन और उपजिलाधिकारी जयङ्क्षसहपुर विधेश मौजूद रहे।

बनाई जा रही एयर स्ट्रिप

दरअसल यूपी में यमुना एक्सप्रेस और फिर आगरा एक्सप्रेस वे के बाद अब नया पूर्वांचल एक्सप्रेस वे भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों की लैंडिंग के लिए तैयार हो रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर 3300 मीटर लंबी एयर स्ट्रिप भी बनाई जाएगी। जिस पर विमानों का एक बड़ा बेड़ा एक साथ तैनात हो सकेगा। यहां से एक पूरी स्क्वाड्रन ऑपरेशन कर सकेगी। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर अयोध्या-अंबेडकरनगर के बीच बन रही 3300 मीटर लंबी एयर स्ट्रिप पर वायुसेना फ्रांस से आए आधुनिक राफेल विमानों को भी उतार सकती है। वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि राफेल के लिए बीकेटी वायुसेना स्टेशन को पहले ही तैयार कर लिया गया है। आने वाले दिनों में राफेल को भी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर उतारा जा सकता है। अभी इस प्रस्ताव पर आखिरी निर्णय एयर स्ट्रिप बनने के बाद मौके का निरीक्षण करने के बाद ही लिया जाएगा।

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned