कोरोना वैक्सीन का पहला ट्रायल पूरा, दो दिन में 33 लोगों को दी गई स्वदेशी वैक्सीन

कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन ‘को-वैक्सिन’ की पहली डोज का पहला ट्रायल शनिवार को पूरा हो गया।

By: Neeraj Patel

Updated: 02 Aug 2020, 07:19 PM IST

कानपुर. कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन ‘को-वैक्सिन’ की पहली डोज का पहला ट्रायल शनिवार को पूरा हो गया। 33 वॉलंटियर (शुक्रवार को 22 व शनिवार को 11 लोग) को वैक्सीन की 0.5 एमल की पहली डोज दी गई। जिनमें पांच महिलाएं भी शामिल हैं। अब इन वॉलंटियर को 14 दिन बाद बुलाया गया है। दो सप्ताह बाद एंटीबॉडीज जांच के लिए पहले इनका ब्लड सैंपल लिया जाएगा। इसके बाद वैक्सीन की एक एमएल की दूसरी डोज दी जाएगी। दूूसरी डोज के 14 दिन बाद फिर एंटीबॉडीज की जांच होगी। आर्य नगर स्थित प्रखर अस्पताल में शनिवार को 11 वॉलंटियर को डोज दी गई। साइड इफैक्ट देखने के लिए इन्हें दो घंटे तक रोका गया। लेकिन किसी में ऐसे कोई लक्षण नहीं उभरे। वहीं जिन 22 लोगों को शुक्रवार को डोज दी गई थी, उनसे फीड बैक लिया गया। प्रखर अस्पताल के सीनियर फिजिशियन डॉ. जेएस कुशवाहा ने बताया कि किसी भी वॉलंटियर को दिक्कत नहीं है। उम्मीद है कि वैक्सीन का परीक्षण सफल है। यह देश के लिए गौरव की बात होगी। पूरा विश्व कोरोना की वैक्सीन पर निगाह लगाए हुए है। 28 दिन बाद वैक्सीन के ट्रायल का अंतिम नतीजा आ जाएगा।

युवती की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

भदोही. जिले में एक अज्ञात युवती की गला रेत कर हत्या कर दी गई। सड़क किनारे शव मिलने से सनसनी फैल गई। इस बारे में पुलिस ने बताया कि बीती रात थाना भदोही अन्तर्गत ग्राम जमुनीपुर अठगवां मेला का बारी में एक युवती नाम पता अज्ञात उम्र करीब 20 वर्ष की अज्ञात बदमाशों ने गला काटकर हत्या की है। उक्त घटना की सूचना पर थाना भदोही पुलिस मौके पर पहुंचकर मृतका की मृत्यु के कारण की जांच कर रही है व मृतका की पहचान कराने का प्रयास जारी। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

अन्ना मवेशियों से फसल को बचाने गए युवक की करंट लगने से मौत

कन्नौज. जिले के ठठिया थाना क्षेत्र के हीरापुर्वा गांव निवासी किसान पृथ्वीराज ने खेत में मक्का की फसल की बुआई की है। अन्ना मवेशियों से फसल बचाने के लिए उसने भाई राणा के साथ खेत के चारों ओर कंटीले तारों की बाड़ लगाई थी। दोनों भाइयों ने बाड़ में नलकूप से करंट दौड़ा रखा था। करंट के चपेट में आकर अक्सर अन्ना मवेशियों की मौत हो जाती थी। शाम करीब छह बजे गांव के किसान हरिश्चंद्र का बेटा आलोक 17 वर्षीय अपने खेत में घुसे अन्ना मवेशी भगाने गया था। घर लौटते समय बाड़ में दौड़ रहे करंट की चपेट में आकर उसकी मौत हो गई। रात 10 बजे तक घर न पहुंचने पर परिजनों ने आलोक की तलाश की लेकिन उसका पता नहीं चला। सुबह परिजन फिर आलोक की तलाश में गए तो उसका शव खेत पड़ा मिला। जिससे परिवार के लोगों में चीख पुकार मच गई। मामले की जानकारी पर पहुंचे थाना प्रभारी राजकुमार सिंह ने बताया कि हरिश्चंद्र की तहरीर पर पृथ्वीराज और राणा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। आरोपी पृथ्वीराज को गिरफ्तार कर लिया गया है।

साधु बनाने के लिए किया बच्चे का अपहरण,11 दिन बाद पुलिस ने बच्चा किया बरामद

मथुरा. साधु वेशधारी व्यक्ति 12 वर्षीय बालक को इस लिहाज से अपने साथ अपहरण कर ले गया कि उस बच्चे को भी वह साधु बनाएगा जो आगे चलकर उसकी सेवा करेगा। वहीं अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराने के करीब एक माह से बच्चे के माता-पिता बेहद परेशान थे और थाने के चक्कर काट रहे थे। शनिवार को पुलिस ने बच्चे को सकुशल बरामद कर उसके माता पिता को सौंपा तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा वहीं पुलिस ने बच्चे को अगवा कर ले जाने वाले आरोपी साधु वेशधारी को भी अरेस्ट कर लिया है।

आगरा कैंट रेलवे स्टेशन पर महिला समेत दो गांजा तस्कर गिरफ्तार

आगरा. आगरा कैंट रेलवे स्टेशन पर अब तक कई लोग गांजा तस्करी में पकड़े जा चुके हैं। शनिवार को जीआरपी ने एपी एक्सप्रेस से आए युवक और उसकी महिला साथी को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 10 किलो गांजा भी बरामद किया गया है। सीओ जीआरपी गजेंद्रपाल सिंह ने बताया कि जीआरपी की सर्विलांस टीम ने चेकिंग के दौरान रात में एपी एक्सप्रेस से कैंट स्टेशन पर उतरे युवक पर शक हो गया। उसके साथ एक महिला और एक साल का बच्चा था। तलाशी लेने पर उनके पास से गांजा बरामद हुआ। सीओ ने बताया कि पकड़ा गया युवक जितेंद्र मालाकार पूर्वी दिल्ली में जूस बेचता है। इसकी आड़ में वो गांजा भी बेच रहा था। ट्रेन में गांजे की तस्करी के दौरान पुलिस को शक नहीं हो, इसलिए उसने अपनी भाभी की बहन रवीना पत्नी मेराज निवासी दिल्ली को साथ ले लिया। पकड़ा गया युवक मूल रूप से बंगाल और महिला बिहार की रहने वाली है।

रक्षाबंधन के कारण ताजनगरी में लॉकडाउन में खुलीं मिठाई और राखी की दुकानें

आगरा. रक्षाबंधन के अवसर आगरा के मिठाई विक्रेताओं के लिए राहत मिली। रक्षाबंधन के लिए प्रशासन ने रविवार के लॉकडाउन में छूट देते हुए मिठाई और राखी की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी। इसके चलते सुबह नौ बजे से रात नौ बजे तक दुकानें खुली रही। दोपहर 12 बजे से दुकानदारों ने बिक्री की। इस संबंध में जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने पहले शनिवार शाम को निर्देश जारी किए थे। इसके बाद रात में इनको संशोधित किया। पहले कहा था कि मिठाई बनाने और स्टॉक करने के लिए दुकानें खोलने की अनुमति होगी, बिक्री के लिए नहीं। शनिवार की रात 11 बजे जिलाधिकारी ने संशोधित आदेश जारी करते हुए कहा कि रविवार को सिर्फ मिठाई व राखी दुकानें खोलने की अनुमति होगी। इस आदेश के बाद सुबह नौ बजे से मिठाई और राखी की दुकानें खुल गई थी।

जुकाम-खांसी की ओपीडी में रोज मिल रहे 10-15 कोरोना संक्रमित

आगरा. जिले के एसएन मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल की चल रही ट्राएज ओपीडी में हर रोज बुखार-खांसी के करीब 280 मरीज आ रहे हैं। इनमें संदिग्धों की कोरोना जांच भी कराई जा रही है, इसमें करीब 10-15 की रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जा रहे हैं। यह संख्या जिले में मिलने वाले कुल मरीजों की करीब आधी है। एसएन ट्राएज ओपीडी में रोजाना करीब 180 मरीज आ रहे हैं। इसमें से जुकाम, खांसी, बुखार और सांस लेने में परेशानी वाले मरीजों की स्क्रीनिंग करने पर 40 से 50 संदिग्ध प्रतीत होते हैं। इनकी कोरोना जांच कराने पर आठ से दस की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। यही हाल जिला अस्पताल का है, यहां जुकाम-खांसी की ओपीडी में 100 से अधिक मरीज आ रहे हैं, इनमें संदिग्धों की जांच कराने पर पांच से आठ संक्रमित मिल रहे हैं।

संजीत यादव अपहरण एवं हत्याकांड की जांच करेगी सीबीआई, यूपी सरकार ने लिया फैसला

कानपुर. यूपी में चर्चित संजीत अपहरण एवं हत्याकांड की जांच यूपी सरकार ने सीबीआई से कराने का फैसला किया है। अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि संजीत के परिवार ने इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी। जिसके बाद प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया है। बता दें कि अभी तक संजीत का शव भी बरामद नहीं हुआ है। संजीत के शव की तलाश पिछले 12 दिनों से की जा रही है। यह मामला कानपुर के बर्रा से 22 जून को लैब टेक्नीशियन संजीत यादव (28) का अपहरण फिरौती के लिए उसके दोस्त ने साथियों के साथ मिलकर किया था। 26 जून को उसकी हत्या कर लाश पांडु नदी में फेंक दी थी। इसके बाद पुलिस को चकमा देकर 13 जुलाई को 30 लाख की फिरौती भी वसूल ली थी। पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए दोस्त कुलदीप, रामबाबू समेत चार लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

Corona virus Corona Virus Precautions
Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned