गोंडा. क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति बेहद खतरनाक मोड़ पर आ गई है। बाढ़ का पानी तेजी से बढ़कर करनैलगंज तहसील क्षेत्र की 77 ग्राम पंचायतों के करीब 670 से अधिक मजरों को चपेट में ले लिया है। तथा पानी का बहाव तेज होने के चलते प्रशासन के हाथ पांव फूलने लगे हैं। अब घाघरा का पानी नालों के जरिये गोण्डा-लखनऊ मार्ग की ओर बढ़ने लगा है। पिछले 48 घंटे में करीब 20 गांवों के मार्ग ध्वस्त हो गये है तथा चार गांवों को जोड़ने वाली आधा दर्जन पुलिया बह चुकी है। वहीं घाघरा खतरे के निशान से करीब डेढ़ मीटर ऊपर पहुंच गई है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned