scriptFormer MP Dr. Udit Raj Press Briefing In Lucknow Congress Office | पूरे देश में असंगठित कामगार एवं कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है- डा.उदित राज | Patrika News

पूरे देश में असंगठित कामगार एवं कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है- डा.उदित राज

कामगार एवं कर्मचारियों के हित में केवल कांग्रेस सरकार ने ही काम किया- डा. उदित राज,सरकार से पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाली की मांग- डा. उदित राज

लखनऊ

Published: May 02, 2022 05:13:07 pm

अखिल भारतीय राष्ट्रीय असंगठित कामगार एवं कर्मचारी कांग्रेस के अध्यक्ष, पूर्व सांसद डॉ.उदित राज ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूरे देश में 38 करोड़ से ज्यादा सरकारी आकड़े के अनुसार असंगठित कामगार हैं। इनके लिए कांग्रेस सरकार के अलावा किसी अन्य सरकारा ने कोई भी काम नहीं किया।
पूरे देश में असंगठित कामगार एवं कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है- डा.उदित राज
पूरे देश में असंगठित कामगार एवं कर्मचारियों की संख्या बढ़ी है- डा.उदित राज
डॉ.उदित राज ने आगे कहा कि कांग्रेस सरकार ने मनरेगा, जॉब कार्ड राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा, सोशल सिक्योरिटी एक्ट सहित तमाम कार्य असंगठित कामगार के लिए किया। इनकी संख्या 2 दशकों में तेजी से बढ़ी है। मनरेगा द्वारा निर्माण कार्य में रोजगार मिला, कर्मचारियों की संख्या भी अमेजन, फ्लिप कार्ड, स्नैपडील, पेपर फ्राई, इत्यादि कंपनियों के आने से बढ़ी है। असंगठित कामगार एवं कर्मचारी के हित में आज भी केवल कांग्रेस पार्टी ही खड़ी दिखाई दे रही है। आटो सेक्टर में भी ओला, उबर, ड्राइवर इन, के माध्यम से बढोत्तरी हुई है।
डॉ.उदित राज ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी में यह एक बड़ा महत्वपूर्ण विभाग है। कोई भी राजनैतिक दल इस तरह का विभाग बना कर इन कामगार एवं कर्मचारियों का भला अब-तक नहीं किया। प्रत्येक जिले में बडी तदाद में लोग कांग्रेस के इस संगठन से जुड़ रहें हैं।

डॉ.उदित राज ने सरकार से मांग की है कि पुरानी पेंशन बहाल हो। 78 लाख 18 हजार केन्द्र व राज्य सरकार कर्मचारी जिनको पेंशन नहीं मिलनी है उन्हें नेशनल पेंशन सिस्टम में कवर किया जा रहा है। जो सरासर अन्याय है। किसी भी कर्मचारी का रिटार्यमेंट के बाद पेंशन ही एक सहारा होता है। तथा परिवार में सम्मान का कारण भी होता है। लेकिन भाजपा की अटल बिहारी की सरकार में यह एक कर्मचारी विरोधी निर्णय भारी पड़ रहा है। कांग्रेस शासित राज्यों ने छत्तीसगढ़ एवं राजस्थान, में पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल कर एक एतिहासिक कदम उठााया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: अपनी पत्नी पर खूब प्रेम लुटाते हैं इस नाम के लड़केबगैर रिजर्वेशन कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, भारतीय रेलवे ने जारी की सूचीनाम ज्योतिष: इन 3 नाम की लड़कियां जहां जाती हैं वहां खुशियों और धन-धान्य के लगा देती हैं ढेरजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंधन के देवता कुबेर की इन 4 राशियों पर हमेशा रहती है कृपा, अच्छा बैंक बैलेंस बनाने में रहते है कामयाबआपके यहां रहता है किराएदार तो हो जाएं सावधान, दर्ज हो सकती है एफआईआर24 हजार साल ठंडी कब्र में दफन रहा फिर भी निकला जिंदा, बाहर आते ही बना दिए अपने क्लोनअंक ज्योतिष अनुसार इन 3 तारीख में जन्मे लोगों के पास खूब होती है जमीन-जायदाद

बड़ी खबरें

नेपाल: चार भारतीय सहित 19 यात्रियों को ले जा रहा एयरक्रॉप्ट हुआ लापता, हादसे की आशंकाUniform Civil Code: मोदी सरकार का अगला एजेंडा है समान नागरिक संहिता, उत्तरखंड से शुरुआत, राज्यों में मंथनआज केरल में दस्तक दे सकता है मानसून, यूपी-बिहार सहित कई जगह बारिश का अलर्टभारत और बांग्लादेश के बीच 2 साल बाद फिर शुरू हुई ट्रेन, कोलकाता से हुई रवानाब्राजील में लैंडस्लाइड और बाढ़ से 31 की मौत, हजारों लोग हुए बेघरIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाArmy Recruitment Change: 'टूअर ऑफ ड्यूटी' के तहत 4 साल के लिए होंगी भर्तियां, फिर 25% युवाओं का पूर्ण चयनRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.