scriptFraud of 72 Crore in Lucknow in The Name of Underworld Chota Don | अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा शकील के नाम पर 72 करोड़ की बेईमानी, आरोपी दंपत्ति कंपनी में निदेशक पद पर तैनात | Patrika News

अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा शकील के नाम पर 72 करोड़ की बेईमानी, आरोपी दंपत्ति कंपनी में निदेशक पद पर तैनात

Fraud of 72 Crore in Lucknow in The Name of Underworld Chota Don- पिसेशिया पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी के निदेशक प्रशांत सिंह से अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील के करीबी कुलविंद सिंह की मदद से 72 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप है।

लखनऊ

Published: November 17, 2021 10:44:53 am

लखनऊ. Fraud of 72 Crore in Lucknow in The Name of Underworld Chota Don. पिसेशिया पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी के निदेशक प्रशांत सिंह से अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील के करीबी कुलविंद सिंह की मदद से 72 करोड़ रुपये हड़पने का आरोप है। आरोपी दंपत्ति प्रशांत की कंपनी में निदेशक के पद पर तैनात थे। इसकी एफआईआर पीड़ित प्रशांत ने गोमतीनगर थाने में करवाई है।
Fraud of 72 Crore in Lucknow in The Name of Underworld Chota Don
Fraud of 72 Crore in Lucknow in The Name of Underworld Chota Don
इस तरह हुए धोखे का शिकार

विपुलखंड निवासी प्रशांत सिंह के अनुसार कंपनी के निर्माण के वक्त जापलिंग रोड शालीमार इमराल्ड निवासी वंदना यादव निदेशक के तौर पर जुड़ी थी। उनके साथ पति विवेक यादव और सीए तुषार नागर जुड़े थे। बाद में आरोपितों ने मनोज कुमार सिंह, विनोद सिंह और नवी मुंबई गोरेगांव निवासी कुलविंदर सिंह को भी प्रशांत की अनुमति के बिना शेयरधारक बना लिया था। वन्दना ने कंपनी से जुड़ते वक्त शुरुआती तौर पर 28 लाख रुपये का निवेश कर शेयर हासिल किए थे। कुछ वक्त बाद आरोपियों ने तुषार नागर की मदद से रिकॉर्ड में हेरफेर करना शुरू कर दिया था।
एफआईआर में प्रशांत ने बताया कि उनकी कंपनी को प्रयागराज में 132 केवी भूमिगत केबिल बिछाने का काम मिला था। इस दौरान वंदना ने पिसेशिया फर्म से पांच करोड़ रुपये एसवीवाई इंफ्रा को ऋण के तौर पर जारी कर दिए। एसबीवाई फर्म का संचालन वंदना और उनके पति करते हैं। पीड़ित के मुताबिक आरोपियों ने कई फर्मों से लेनदेन के जाली बिल और भुगतान आर्डर भी तैयार कराए थे। प्रशांत के अनुसार करीब 72 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी उनके साथ की गई है।
कुलविंदर सिंह को छह करोड़

प्रशांत के मुताबिक, मुम्बई निवासी कुलविंदर सिंह को आरोपियों ने जुहू में बंगला खरीदने के लिए छह करोड़ दिए थे। अक्टूबर 2020 में मुंबई क्राइम ब्रांच ने धोखाधड़ी में कुलविंदर को गिरफ्तार किया था। इसी से प्रशांत को अंडरवर्ल्ड डॉन और कुलविंदर के रिश्तों का पता चला था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.