यूपी में कोरोना के चलते सरकारी कर्मचारियों को मिलेगी वर्क फ्रॉम होम की इजाजत, सरकार आज लाएगी नई गाइडलाइन

जो कर्मचारी-अधिकारी घर पर रहेंगे, वे ई-मेल व व्हाट्सएप पर उपलब्ध रहेंगे। जरूरत पड़ने पर उन्हें ऑफिस बुलाया जा सकेगा...

लखनऊ. दुनियाभर में कोरोना (COVID-19) के बढ़ते कहर के बाद अब उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरह से एक्शन में दिखाई दे रही है। बचाव के लिए सचिवालय और सरकारी दफ्तरों में भी अब 'वर्क फ्रॉम होम' व्यवस्था लागू होने वाली है। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने बताया कि किन कर्मचारियों को ऑफिस बुलाना है, यह विभागाध्यक्ष तय करेंगे। जो कर्मचारी-अधिकारी घर पर रहेंगे, वे ई-मेल व व्हाट्सएप पर उपलब्ध रहेंगे। जरूरत पड़ने पर उन्हें ऑफिस बुलाया जा सकेगा। घर पर रहने के दौरान जो काम दिया जाएगा, उसे समय से पूरा करना होगा। इस संबंध में आज आदेश जारी होने की उम्मीद है। दरअसल सरकारी कार्यालयों में भीड़ खत्म करने के लिए कर्मचारियों को घर से काम करने की व्यवस्था सुनिश्चित करने की तैयारी कर रही है।

यह भी पढ़ें: कोरोना से राहत, 80 लाख मजदूरों के खाते में घर बैठे भेजा जाएगा 1000-1000 रुपया, ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य होगा यूपी


आपको बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच केंद्र सरकार ने पहले ही अपने कर्मचारियों के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी है। इसके तहत ग्रुप बी और ग्रुप सी कर्मचारियों के आधे कर्मचारी घर से काम करेंगे। डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल एंड ट्रेनिंग (DoPT) की ओर से जारी निर्देश के अनुसार अधिकारी इस तरह कामों को बांटेंगे जिसके तहत आधे कर्मचारी ही ऑफिस आएंगे। फिर एक हफ्ते बाद दूसरी टीम ऑफिस आएगी।

यह भी पढ़ें: ट्रेनों में सीनियर सिटीजंस के रियायती टिकट बनना बंद, अब नहीं कर पाएंगे यात्रा

Corona virus
Show More
नितिन श्रीवास्तव Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned