सरकार 'समूह ग' के कर्मचारियों का स्थानांतरण निरस्त करें: मोर्चा

मोर्चा ने मांग रखी कि सरकार समूह ग के कर्मचारियों का स्थानांतरण निरस्त करें।

By: Ritesh Singh

Published: 24 Jul 2021, 09:10 PM IST

लखनऊ। कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष एवं वी.पी. मिश्र एवं महामंत्री शशि कुमार मिश्र ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि समूह ग के कर्मचारियों के स्थानांतरण को निरस्त करें तथा कर्मचारियों की वेतन विसंगतियों, भत्तो की कटौती के भुगतान करने ,रिक्त पदों पर भर्ती एवं पदोन्नतिया करने ,स्थानीय निकाय कर्मचारियों ,विकास प्राधिकरण एवं राजकीय निगम ,शिक्षणेत्तर कर्मचारियों का पुनर्गठन करके राज्य कर्मचारियों की भाँति सातवें वेतन आयोग का लाभ देने तथा निजी करण के बढ़ावा देने के निर्णय करने पर पुनर्विचार करें। मोर्चा ने मांग रखी कि सरकार समूह ग के कर्मचारियों का स्थानांतरण निरस्त करें।

कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में कर्मचारियों ने जनता को स्वस्थ रखने में अपनी जान पर खेलकर सेवाएं दी हैं। जिसकी आज जनता भी प्रशंसा करती है। कर्मचारी यह नहीं समझ पा रहा है कि जब कैबिनेट ने समूह ग के कर्मचारियों का पटल परिवर्तन करने का निर्णय लिया था तो विभिन्न संगठनों के अध्यक्ष एवं मंत्री , दाम्पत्य ,दिव्यांग, मृतक आश्रित नियमावली के तहत आश्रित महिलाओं को दूर दूर क्यों भेजा गया है। जब केवल पटल परिवर्तन का निर्णय लिया गया था तो फिर ऐसा क्यों किया गया।द्वय नेताओं ने साफ तौर से कहा कि प्रदेश सरकार मोर्चा के पदाधिकारियों से संवाद कर वांछित निर्णय नहीं किए तो प्रदेश के 22 लाख कर्मचारी वर्ष 2010 की तरह एक बार फिर आंदोलन कर बिगुल बजाएंगे। कर्मचारियों की नाराजगी एवं आक्रोश भावी चुनावों में सरकार के लिए नुकसानदेह साबित होगा।

Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned