सीएम आवास घेरने जा रहे ग्राम रोजगार सेवकों ने किया पुलिस पर पथराव, 50 गिरफ्तार

सीएम आवास घेरने जा रहे ग्राम रोजगार सेवकों ने किया पुलिस पर पथराव, 50 गिरफ्तार
Gram Rojgar Sevak Protest in Lucknow

Shatrudhan Gupta | Updated: 25 Sep 2017, 06:07:26 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कई दिनों से राजधानी लखनऊ के लक्ष्मण मेला मैदान में धरना दे रहे ग्राम रोजगार सेवक सोमवार को अचानक उग्र हो गए।

लखनऊ. राज्य कर्मचारियों की तर्ज पर वेतनमान और समायोजन की मांग को लेकर कई दिनों से राजधानी लखनऊ के लक्ष्मण मेला मैदान में धरना दे रहे ग्राम रोजगार सेवक सोमवार को अचानक उग्र हो गए। उन्होंने पुलिस पर जमकर पथराव कर दिया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी ग्राम रोजगार सेवकों पर आंसू गैस के गोले दागे और लाठीचार्ज किया। इसमें कई को हल्की चोटें आई हैं। गौरतबल है 12 सितंबर से अपनी मांगो को लेकर धरना दे रहे ग्राम सेवकों ने सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने मांग की थी, जिसके पूरा न होने पर वह विधानसभा और मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने निकले थे।

ग्राम रोजगार सेवक इक्ट्ठा होकर मुख्मयमंत्री आवासा का घेराव करने पांच कालीदास मार्ग की तरफ बढ़ रहे थे, तभी पुलिस बल ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो वे पुलिस से भी भिड़ गए। इस दौरान कई ग्राम रोजगार सेवकों से पुलिस की तू-तू-मैं-मैं भी हुई। लेकिन, पुलिस ने उन्हें आगे नहीं बढऩे दिया। इससे आक्रोशित ग्राम रोजगार सेवकों ने पुलिस बल पर पथराव कर दिया। उग्र ग्राम रोजगार सेवकों को रोकने के लिए पुलिस भी तुरंत हरकत में आई और उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज कर उन्हें खदेड़ दिया। पुलिस की लाठीचार्ज में कई ग्राम रोजगार सेवकों को हल्की चोटें आने की सूचना है।

जब तक मांगें पूरी नहीं होंगी चलता रहेगा आंदोलन
ग्राम रोजगार सेवक संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि यह पुलिस और शासन की दमनकारी नीति है। हम अपनी मांगों को लेकर इतने दिनों से धरनारत हैं, लेकिन हमारी सुनवाई नहीं हो रही है। हमने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के लिए समय मांगा था, लेकिन वह भी हमें नहीं दिया गया। पदाधिकारियों का कहना था कि मुख्यमंत्री हम लोगों की समस्याओं को नजरअंदाज कर रहे हैं, यही वजह है कि वह हम लोगों से मिलना नहीं चाहते। वहीं, जब हमने अपनी मांगों को लेकर सीएम आवास घेरना चाहा तो पुलिस ने दमनकारी नीति अपनाते हुए हम पर ही लाठीचार्ज कर दिया। पदाधिकारियों ने कहा कि पुलिस की इस दमनकारी रवैये के बावजूद हमारा आंदोलन जारी रहेगा। जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं हो जातीं हम धरना प्रदर्शन करते रहेंगे। इधर, सोमवार को रोजगार ग्राम सेवकों, इम्तियाज खान, ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी और आकाश त्रिपाठी की अगुवाई में ग्राम रोजगार सेवकों ने लक्ष्मण मेला मैदान में तैनात पुलिसकर्मियों को फूल भेंट कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से वार्ता कराने का अनुरोध किया था।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned