scriptGyanvapi survey update action against member of a team | ज्ञानवापी सर्वे तीसरा दिन: सर्वे टीम के सदस्य को टीम से हटाया गया, जानें क्यों हुई कार्रवाई | Patrika News

ज्ञानवापी सर्वे तीसरा दिन: सर्वे टीम के सदस्य को टीम से हटाया गया, जानें क्यों हुई कार्रवाई

सोमवार को ज्ञानवापी परिसर में तीसरे दिन का सर्वे पूरा हो गया है। आज नंदी के सामने वाले कुएं की वीडियो ग्राफी कराई गई है। परिसर का तहखाना सर्व के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण रहा। आज तहखाने के जिस क्षेत्र में पानी भरा था वहां का भी सर्वे किया गया।

लखनऊ

Updated: May 16, 2022 10:39:56 am

ज्ञानवापी सर्वे. ज्ञानपावी मस्जित में हो रहे सर्वे के दौरान एडवोकेट कमिश्नर ने एक टीम के सदस्य के खिलाफ कार्रवाई करते हुए टीम से हटा दिया है। टीम के सदस्य आरपी सिंह को टीम से हटा दिया गया है। यह कार्यवाई आखरी दिन सर्वे के दौरान की गई है। आरपी सिंह को सर्वे की जानकारी सार्वजनिक करने के मामले में यह कार्रवाई की गई है। आरपी सिंह कार्रवाई के बाद परिसर से बाहर निकले हैं। आरपी सिंह ने सर्वे की जनाकारी मीडिया से साझा किया था। जिसके बाद ये कार्रवाई की गई है।
karyawai.jpg
तीसरे दिन का सर्वे जारी

सोमवार को ज्ञानवापी परिसर में तीसरे दिन का सर्वे पूरा हो गया है। आज नंदी के सामने वाले कुएं की वीडियो ग्राफी कराई गई है। परिसर का तहखाना सर्व के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण रहा। आज तहखाने के जिस क्षेत्र में पानी भरा था वहां का भी सर्वे किया गया। हिन्दू पक्ष का दावा है कि परिसर में हिन्दू चिन्ह मिले हैं वहीं मुस्लिम पक्ष का कहना है कि सर्वे में कुछ भी ऐसा नहीं मिला है जिससे हिन्दू पक्ष को बल मिले। हालांकि, यदि हिन्दू पक्ष का दावा है कि परिसर के तहखाने में त्रिशूल, स्वास्तिक, घंटी, श्लोक के चिन्ह मिले हैं। पत्रिका हिन्दू पक्ष की ओर से किए जाने वाले दावों की पुष्टि नहीं करहता है। एडवोकेट कमिश्नर के अनुसा रिपोर्ट को गोपनीय रखने के निर्देश कोर्ट की ओर से दिए गए हैं ऐसे में कोर्ट में रिपोर्ट पेश होने के बाद भी स्पष्ट हो पाएगा की सर्वे में क्या मिला है।
पूरा हुआ तीसरे दिन का सर्वे

श्रृंगार गौरी विवाद के बीच सोमवार को तीसरे दिन का सर्वे पूरा हो गया है। सुबह 10 बजे ही तीसरे दिन का सर्वे पूरा कर लिया गया है। कोर्ट ने सर्वे के लिए सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक का समय दिया था। 17 मई यानी की कल एडवोकेट कमिश्नर कोर्ट के सामने रिपोर्ट पेश करेंगे।
सर्वे की रिपोर्ट गोपनीय, 29 वर्ष बाद खुले कमरे

एडवोकेट कमिश्नर विशाल सिंह ने बताया कि सर्वे की रिपोर्ट गोपनीय है, इसे साझा नहीं किया जा सकता। सर्वे के लिए परिसर के कमरे 29 वर्ष बाद खोले गए हैं। तहखाने के अंदर की बनावट, धार्मिक चिह्न, कलाकृतियों और खंभों की वीडियोग्राफी करवाई गई है। सर्वे के दौरान टीम ने सभी पहलुओं की जांच की है। सर्वे को दौरान दो कमरों के ताले आसानी से खुल गए, लेकिन तीसरे कमरे का ताला तोड़ना पड़ा। दावा किया जाता है कि चार जनवरी 1993 को तत्कालीन डीएम सौरभ चंद्र ने नीचे के तीनों कमरों पर ताले लगवा दिए थे।
नहीं हुई कोई समस्या

रविवार को सर्वे में किसी प्रकार की समस्या नहीं आई। दोपहर को परिसर से टीम के निकल जाने के बाद गोदौलिया-मैदागिन मार्ग को शुरू कर दिया गया। डीएम कौशलराज शर्मा ने बताया कि दूसरे दिन एडवोकेट कमीशन की कार्यवाही शांतिपूर्वक माहौल में पूरी हुई है।
बढ़ाई गई सुरक्षा

ज्ञानवापी परिसर के पास सोमवार को सुरक्षा ज्यादा सख्त की गई। सर्वे के दूसरे दिन अधिवक्ता आयुक्त समेत वादी-प्रतिवादी पक्षों सहित कुल 52 सदस्यों की टीम ने तीसरे दिन सर्वे का कार्य करेगी। दूसरे दिन के सर्वें में क्या-क्या मिला इसकों लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है। सर्वे के बाद से कयासों का दौर जारी है। इसी बीच इस सबंध में किसी तहत की अफवाह ने फैले इसको लेकर सोशल मीडिया पर निगरानी रखी जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महा विकास अघाड़ी सरकार को बड़ा झटका, शिंदे खेमे में शामिल होंगे उद्धव के 8वें मंत्रीRanji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबBypoll results 2022 LIVE: UP की आजमगढ़ सीट से निरहुआ की हुई जीत, दिल्ली में मिली जीत पर केजरीवाल गदगदअगरतला उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेताओं पर हमला, राहुल गांधी बोले- BJP के गुड़ों को न्याय के कठघरे में खड़ा करना चाहिएSangrur By Election Result 2022: मजह 3 महीने में ही ढह गया भगवंत मान का किला, किन वजहों से मिली हार?सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद, फिर से सामने आया कनाडाई (पंजाबी) गिरोहMumbai News Live Updates: कलिना, सांताक्रूज में पार्टी कार्यकर्ताओं के कार्यक्रम में शामिल हुए आदित्य ठाकरेMaharashtra Political Crisis: केंद्र ने शिवसेना के बागी 15 विधायकों को दी Y प्लस कैटेगरी की सुरक्षा, शिंदे गुट ने डिप्टी स्पीकर के खिलाफ लिया ये फैसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.