scriptGyanvapi third day survey | ज्ञानवापी सर्वे तीसरा दिन: थोड़ी देर में शुरू होगा सर्वे, 90 प्रतिशत सर्वे पूरा आज लगेगा फाइनल टच | Patrika News

ज्ञानवापी सर्वे तीसरा दिन: थोड़ी देर में शुरू होगा सर्वे, 90 प्रतिशत सर्वे पूरा आज लगेगा फाइनल टच

ज्ञानवापी परिसर में दूसरे दिन तहखाने के ऊपरी हिस्से में स्थित पश्चिमी दीवार, कमरों सहित गुंबदों का सर्वे किया गया। इस दौरान परिसर के एक कमरें में मलबा मिला है मलबे को साफ किया गया। ज्ञानवापी परिसर के अधिकत क्षेत्र का सर्वे पूरा हो गया है कुछ हिस्सा बचा है जिसका सर्वे आज सोमवार को होगा। वादी पक्ष के अधिवक्ता हरिशंकर जैन और सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि कमीशन की कार्यवाही सोमवार को भी होगी। 17 मई को सर्वे कि रिपोर्ट कोर्ट के सामने पेश करनी है।

लखनऊ

Updated: May 16, 2022 07:31:46 am

ज्ञानवापी सर्वे. श्रृंगार गौरी विवाद के बीच सोमवार को तीसरे दिन का सर्वे किया जाएगा। रविवार को दो दिनों का सर्वे पूरा हो चुका है। रविवार तक सर्वे का 90 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। बाच हुआ कार्य आज पूरा कर लिया जाएगा। सुबह आठ बजे सर्वे टीम ज्ञानवापी परिसर पहुंचेगी। जिसके बाद सर्वे का कार्य शुरू किया जाएगा।
gyan2.jpg
दो दिनों को सर्वे हुआ पूरा

ज्ञानवापी परिसर में दूसरे दिन तहखाने के ऊपरी हिस्से में स्थित पश्चिमी दीवार, कमरों सहित गुंबदों का सर्वे किया गया। इस दौरान परिसर के एक कमरें में मलबा मिला है मलबे को साफ किया गया। ज्ञानवापी परिसर के अधिकत क्षेत्र का सर्वे पूरा हो गया है कुछ हिस्सा बचा है जिसका सर्वे आज सोमवार को होगा। वादी पक्ष के अधिवक्ता हरिशंकर जैन और सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि कमीशन की कार्यवाही सोमवार को भी होगी। 17 मई को सर्वे कि रिपोर्ट कोर्ट के सामने पेश करनी है। सुबह आठ बजे शुरू हुए सर्वे का कार्य 12 बजे तक चला। दोपहर एक बजे के बाद एडवोकेट कमिश्नर व उनकी टीम और वादी-प्रतिवादी पक्ष के लोग परिसर से बाहर निकले।
सर्वे की रिपोर्ट गोपनीय, 29 वर्ष बाद खुले कमरे

एडवोकेट कमिश्नर विशाल सिंह ने बताया कि सर्वे की रिपोर्ट गोपनीय है, इसे साझा नहीं किया जा सकता। सर्वे के लिए परिसर के कमरे 29 वर्ष बाद खोले गए हैं। तहखाने के अंदर की बनावट, धार्मिक चिह्न, कलाकृतियों और खंभों की वीडियोग्राफी करवाई गई है। सर्वे के दौरान टीम ने सभी पहलुओं की जांच की है। सर्वे को दौरान दो कमरों के ताले आसानी से खुल गए, लेकिन तीसरे कमरे का ताला तोड़ना पड़ा। दावा किया जाता है कि चार जनवरी 1993 को तत्कालीन डीएम सौरभ चंद्र ने नीचे के तीनों कमरों पर ताले लगवा दिए थे।
नहीं हुई कोई समस्या

रविवार को सर्वे में किसी प्रकार की समस्या नहीं आई। दोपहर को परिसर से टीम के निकल जाने के बाद गोदौलिया-मैदागिन मार्ग को शुरू कर दिया गया। डीएम कौशलराज शर्मा ने बताया कि दूसरे दिन एडवोकेट कमीशन की कार्यवाही शांतिपूर्वक माहौल में पूरी हुई है।
बढ़ाई गई सुरक्षा

ज्ञानवापी परिसर के पास सोमवार को सुरक्षा ज्यादा सख्त की गई। सर्वे के दूसरे दिन अधिवक्ता आयुक्त समेत वादी-प्रतिवादी पक्षों सहित कुल 52 सदस्यों की टीम ने तीसरे दिन सर्वे का कार्य करेगी। दूसरे दिन के सर्वें में क्या-क्या मिला इसकों लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है। सर्वे के बाद से कयासों का दौर जारी है। इसी बीच इस सबंध में किसी तहत की अफवाह ने फैले इसको लेकर सोशल मीडिया पर निगरानी रखी जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.