अब स्वास्थ्य योजनाओं पर होगी एएनएम के टेबलेट की नजर, नहीं चलेगी कोई लापरवाही

अब स्वास्थ्य योजनाओं पर होगी एएनएम के टेबलेट की नजर, नहीं चलेगी कोई लापरवाही

Neeraj Patel | Publish: May, 13 2019 09:52:48 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य योजनाओं की प्रगति को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने औक्सिलरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम) टेबलेट की सुविधा चलाने का फैसला लिया है।

 

लखनऊ. ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य योजनाओं की प्रगति को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने औक्सिलरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम) टेबलेट की सुविधा चलाने का फैसला लिया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक पंकज कुमार ने यूपी के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को पत्र लिखकर निर्देश जारी किया है कि औक्सिलरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम) टेबलेट केवल Health and Wellness Centre (HWC), Non Communicable Disease(NCD) व Integrated Disease Surveillance Program(IDSP) एप्लीकेशन के संचालन हेतु अधिकृत एएनएम को उपलब्ध कराये जाएंगे।

सबसे पहले स्वास्थ्य विभाग ग्रामीण क्षेत्रों का सर्वे कराएगा जिससे पता चल सकेगा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य योजनाओं की प्रगति कितने प्रतिशत हुई है। जिसकी रिपोर्ट एएनएम द्वारा तैयार एक रजिस्टर में दर्ज कर स्वास्थ्य विभाग को दी जाती है। इस औक्सिलरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम) टेबलेट के माध्यम से सारी जानकारी स्क्रीन पर ऑनलाइन प्राप्त की जा सकेगी।

टेबलेट में ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन डाटा दर्ज करने की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी। गोपनीयता की सुरक्षा के लिए हर टेबलेट का अपना एक आइएमईआई नंबर भी रहेगा। जिससे इस एप को किसी अन्य मोबाइल पर न खोला जा सके और न ही किसी मोबाइल पर ओपन हो सके।

जो लोग स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ ग्रामीण लोगों तक पहुंचाने के लिए उनके पास जाते है। तो उसकी पूरी जानकारी इस टेबलेट में दर्ज करनी होगी। इसके साथ ही एएनएम को भी अपने प्रतिदिन के कार्यों की जानकारी दर्ज करनी होगी कि उन्होंने किन गांवों का भ्रमण किया और कहां-कहां तक अपनी सेवाओं को लोगों तक पहुंचाया है।

- कितने योग्य दंपत्ति हैं
- गर्भवती व धात्री महिलाएं तथा बच्चे कितने हैं
- बच्चे किस श्रेणी के हैं
- कितने बच्चों का टीकाकरण हुआ है और किनका होना है
- गांव में कौन सा रोग फैला है
- कितने लोग बीमार हैं

संबन्धित जानकारियों को टेबलेट दिए गए एप में दर्ज करनी होंगी जिसके लिए इस संबंध में एएनएम को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। यह टेबलेट केवल एएनएम को ही दिया जाएगा

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned