लखनऊ मेट्रो में सफर से पहले जमा कर सकेंगे हाउस, वाटर और अन्य टैक्स

गो स्मार्ट कार्ड से करीब 32 सुविधाएं मिल सकेंगी।

By: Dikshant Sharma

Published: 10 Feb 2018, 07:15 PM IST

लखनऊ. मेट्रो के टिकट काउंटरों पर भी हाउस टैक्स भी जमा किया जा सकेगा। नार्थ साउथ कोरिडोर का पूरा रूट शुरू होने तक एलएमआरसी यह सुविधा यात्रियों को देगा। हालांकि मेट्रो के गो स्मार्ट कार्ड धारक ही मेट्रो स्टेशनों पर गृहकर जमा कर सकेंगे। बीते दिनों नगर निगम ने इस सुविधा को शुरू करने के लिए मेट्रो रेल कॉरपोरेशन को प्रस्ताव दिया था। मेट्रो ने इस संबंध में प्रस्ताव फाइनल कर दिया है। इस सेवा को शुरू करने के लिए नगर निगम के सभी जोनों का डाटा में टिकट आफिस मशीन के सा टवेयर में फीड किया जाएगा।


वन सिटी वन कार्ड योजना के तहत मेट्रो के गो स्मार्ट कार्ड से करीब 32 सुविधाएं मिल सकेंगी। इस कार्ड के जरिए हाउस टैक्स, पानी का बिल, बिजली का बिल व प्राधिकरण संबंधित अन्य टैक्स भी जमा करने की सुविधा मिल सकेंगी। पहले चरण में हाउस टैक्स जमा करने की सुविधा जल्द ही नागरिकों को मिलने जा रही है। निजी बैंक एचडीएफसी यह सुविधा देने के लिए काम कर रही है। जल्द ही योजना को अमलीजामा पहना दिया जाएगा। शहर में ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक प्राथमिक सेक्शन में मेट्रो का संचालन हो रहा है। इस रूट पर मेट्रो के आठ स्टेशन हैं जहां पर टिकट काउंटर पर टिकट ऑपरेटिंग मशीन ऑपरेटर गो स्मार्ट कार्ड के जरिए गृहकर जमा करेंगे। मेट्रो की ओर से इस प्रस्ताव के लिए एलएमआरसी के डिप्टी चीफ सिगनल एंड टेलीकॉम इंजीनियर बृजेश मिश्रा ने नगर निगम को पत्र भेज दिया है।

इस तरह से जमा होगा गृहकर
मेट्रो स्टेशन पर गृहकर जमा करने के लिए ऑपरेटर को अपनी संपत्ति का एकांउट नगर, हाउस नंबर, नाम व मोबाइल नंबर तथा टैक्स की धनराशि बतानी होगी। इसके बाद गो स्मार्ट कार्ड के जरिए भुगतान हो जाएगा। भुगतान होने के बाद भवन स्वामी को इसी रसीद भी मिलेगी। शुरूआती दौर में रसीद मिलेगी लेकिन बाद में पूरा प्रिंट भी मिलने लगेगा। प्रत्येक दिन टिकट काउंटर पर गृहकर जमा की धनराशि नगर निगम के एकांउट में ट्रांसफर कर दी जाएगी। इसके साथ ही कोमा सेपरेटड वैल्यू के जरिए दिन भर में जमा किया गया गृहकर की जानकारी इलेक्ट्रानिक मेल नगर निगम के संबंधित अधिकारी को भेज दी जाएगी।

क्लियरिंग हाउस से कनेक्ट होगा स्मार्ट कार्ड
कलेक्शन सिस्टम का मु य सर्वर एलएमआरसी के पास ही रहेगा। मेट्रो के सेंटर क्लियरिंग हाउस के जरिए इंटीगे्रटड कार्ड का उपयोग कहीं भी होने पर जानकारी मिल सकेगी। एलएमआरसी ने एचडीएफसी से अनुबंध किया है। सभी फेयर कलेक्शन उपकरण लोकल एरिया के साथ स्टेशन सर्वर के साथ कनेक्टेड होंगे। यह स्टेशन्स सर्वर परक प्यूटर से जुड़ें रहेंगे जो कि ऑपरेशनल कंट्रोल सेंटर से आप्टिक फाइबर के जरिए कनेक्टड हैं। टिकट आफिस मशीन के जरिए गृहकर जमा हो सकेगा।

Dikshant Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned