बारिश में हेयर फॉल कण्ट्रोल के लिए इन बातों का रखे ध्यान

बारिश के मौसम में नमी के कारण सामान्य रूप से अधिक बाल झड़ते हैं। गरम तेल से मालिश और सही खान-पान से बालों का झड़ना काम हो सकता है।

By: Sandhya Jha

Published: 10 Sep 2021, 04:58 PM IST

लखनऊ. (पत्रिका न्यूज नेटवर्क). बारिश का मौसम किसे पसंद नहीं होता। चिलचिलाती गर्मी के बाद लोग आराम से राहत की सांस लेते हैं और बारिश के साथ गरमा-गरम पकोड़े का मज़ा लेते हैं। हालांकि, नमी के कारण बारिश अपने साथ कुछ नई समस्याएं लेकर आती है।कॉस्मेटिक त्वचा स्पेशलिस्ट और डर्माटो-सर्जन डॉ रिंकी कपूर कहती हैं, "मानसून के दौरान बालों का झड़ना लगभग 30 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। और मॉनसून के दौरान ऑयली स्कैल्प, बेजान बाल और डैंड्रफ की समस्या भी होती है।

कॉस्मेटिक त्वचा स्पेशलिस्ट, डॉ जमुना पाई कहती हैं, “इस सब के बारे में एकमात्र अच्छी बात यह है कि मानसून के दौरान बालों की ये समस्याएँ आमतौर पर अस्थायी होती हैं और कोई भी अपने बालों की देखभाल करके और सरल घरेलू उपचारों का उपयोग करके इसे आसानी से नियंत्रित कर सकता है।"

काम्प्लेक्स हेयर स्टाइल से करे दूरी

ऐसे सरल हेयर स्टाइल चुनें जिनमें स्टाइलिंग उत्पादों, हेअर ड्रायर और स्ट्रेटनर की आवश्यकता न हो। एक सुंदर चोटी या पोनीटेल जिसे किसी भी केमिकल की आवश्यकता नहीं होती है, वह बालों के लिए बहुत अच्छी होती है। बालों के प्रोडक्ट में केमिकल्स बालों में नमी और स्टाइलिंग गैजेट के इस्तेमाल बालों को चिकना बनाते हैं और इससे उनके टूटने का खतरा होता है। इससे डैंड्रफ भी हो सकता है।

अपने बालों को धक् के रखे

अगर आप बाहर निकल रहे हैं तो आपने देखा होगा कि बारिश के दौरान आपके बाल लंबे समय तक गीले रहते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि बाल वातावरण से हाइड्रोजन को अब्सॉर्ब करते हैं और सूज जाते हैं। यही कारण है कि मानसून में आपके बाल इतने फ़्रिज़जी दिखाई देते हैं।

बारिश के पानी को धो दें

अगर आप बारिश में भीगे हैं तो आपको चाहिए कि आप तुरंत बाद में अपने बाल धो लें। विशेषज्ञों का कहना है कि बारिश के पानी में हवा से प्रदूषक और केमिकल्स होते हैं जो बालों को नुकसान पहुंचाते हैं और फॉलिकल्स को बंद कर देते हैं जिससे आपके बाल सुस्त और पतले, खुजलीदार और सूखे हो जाते हैं। बारिश के पानी से फंगल इंफेक्शन का भी खतरा बढ़ जाता है जिससे बाल झड़ सकते हैं और स्कैल्प में खुजली हो सकती है।

माइल्ड शैम्पू और कंडीशनर का इस्तेमाल करे

रफ़ और हार्ड शैंपू केवल बालों की समस्याओं को बढ़ाएंगे। अगर आपके स्कैल्प में खुजली या डैंड्रफ है तो अपने त्वचा विशेषज्ञ से एक सौम्य शैम्पू के लिए कहें।

गैजेट्स के प्रयोग से बचें

मानसून के दौरान आपके बाल पहले से ही वातावरण से काफी नमी सोख रहे होते हैं। शॉवर के तुरंत बाद अपने बालों को सुखाएं लेकिन हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें, इसके बजाय एक हल्के माइक्रोफाइबर तौलिया का उपयोग करें और नमी को धीरे से सोखें। अपने बालों को जोर से न रगड़ें।

गर्म तेल से मालिश करे

थोड़ा सा नारियल का तेल लें और इससे अपने सिर की मालिश करें। एक दो घंटे के लिए छोड़ दें और फिर धो लें। गर्म तेल की मालिश बालों के रोम को उत्तेजित करती है और सिर में रक्त के प्रवाह को बढ़ाती है जिससे बाल मुलायम और खूबसूरत हो जाते हैं।

गीले बालों को न बांधें

गीले बालों को बांधने से बालों पर खिंचाव पड़ता है, जिससे बाल टूटते हैं। बालों को स्टाइल करने से पहले बालों के सूखने का इंतजार करें।

सही खाओ और पियो

रोजाना कम से कम आठ गिलास पानी पिएं। हरी पत्तेदार सब्जियां, मेवे, अंडे, साबुत अनाज, गाजर, राजमा, अंकुरित अनाज प्रोटीन, विटामिन ई, पोटेशियम और आयरन के बेहतरीन स्रोत हैं। ये सभी चमकदार, बाउंसी बालों के बिल्डिंग ब्लॉक हैं जो मानसून में बालों के झड़ने को रोकते हैं। कोशिश करे कि पकोड़े, समोसा और तैलीय पदार्थ को हफ्ते में एक बार तक ही सीमित रखें।

Sandhya Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned