यूपी लोक सेवा आयोग ने सुनाया बड़ा फैसला, आईएएस-पीसीएस के पाठ्यक्रम में हुआ बदलाव

यूपी लोक सेवा आयोग ने सुनाया बड़ा फैसला, आईएएस-पीसीएस के पाठ्यक्रम में हुआ बदलाव

Akansha Singh | Updated: 07 Jul 2018, 01:26:29 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने युवाओं के लिए एक बड़ा फैसला लिया

लखनऊ. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने युवाओं के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। अब आईएएस और पीसीएस की परीक्षा का पाठ्यक्रम एक जैसा होगा। इससे प्रतियोगी छात्रों को एक एग्जाम की तैयारी करने से दूसरे एग्जाम को देने में भी आसानी होगी। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने संघ लोक सेवा आयोग की तर्ज पर मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम लागू कर दिया है। 2018 पीसीएस की परीक्षा के लिए शुक्रवार को विज्ञापन जारी हो गया है। इस में हुए परिवर्तन का प्रतियोगी छात्रों ने स्वागत किया।

पीसीएस 2018 में तीन दशक के बाद SDM ने 19 पदों पर भर्ती होने जा रही है। इस लिहाज से डिप्टी कलेक्टर बनने का सपना पूरा करने का प्रतियोगी छात्रों के लिए सुनहरा मौका है। 2017 में एसडीएस के सिर्फ 22 पद थे लेकिन इस बार यह 5 गुना बढ़ा दिए गए हैं। 2018 में डिप्टी SP 94 पद, आबकारी निरीक्षक के 146 पद, प्रधानाचार्य राजकीय कॉलेज के 62 पद, जिला सूचना अधिकारी के 43 पद, खाद्य सुरक्षा अधिकारी के 58 पद, उपनिबंधक के 21 और बीडियो के 6 पद हैं। वैसे तो पीसीएस 2018 में 4600 से 5400 ग्रेड पे वाले पद हैं लेकिन नायब तहसीलदार एकमात्र ऐसा पद है जिसका ग्रेड पे 4200 के बावजूद भर्ती में शामिल किया गया है। सूत्रों का मानना है कि अभी आयोग को नायाब तहसीलदार का कोई अधियाचन नहीं मिला है। हालांकि भर्ती फाइनल होने तक कुछ पद मिल सकते हैं। पदों की संख्या 631 से ऊपर नीचे हो सकती है।

100 अंकों का होगा इंटरव्यू

पीसीएस 2018 में भर्ती में कई बदलाव किए जाएंगे। सरकार ने 24 अप्रैल को कैबिनेट की बैठक में इन बदलावों को मंजूरी दे दी है। इंटरव्यू के अंको को 200 से घटाकर 100 कर दिए गए हैं और वैकल्पिक विषय के रूप में दो की जगह एक विषय कर दिया है। पहले चयन प्रक्रिया 1700 अंको की होती थी लेकिन अब 1600 अंकों की होगी। सामान्य अध्ययन के 2 प्रश्नपत्र 400 नंबर के होते थे लेकिन अब 200-200 अंकों के चार पेपर होंगे।

मुख्य परीक्षा में भी होगा बड़ा बदलाव

आयोग ने मुख्य परीक्षा का जो पाठ्यक्रम निर्धारित किया है उसके प्रथम प्रश्न पत्र में भारत का इतिहास व संस्कृति है। द्वितीय प्रश्न पत्र में भारतीय संविधान, संघ राज्य संबंध, पड़ोसी देशों से भारत के संबंध आदि हैं। तृतीय में अर्थव्यवस्था तथा विज्ञान प्रौद्योगिकी, चौथे प्रश्न पत्र में नीतिशास्त्र और लोक प्रशासक आदि है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned