scriptIncome tax Raid Why did Akhilesh compare BJP with Congress? | आयकर छापों पर अखिलेश ने क्यों की बीजेपी की कांग्रेस से तुलना ? जानिए वजह | Patrika News

आयकर छापों पर अखिलेश ने क्यों की बीजेपी की कांग्रेस से तुलना ? जानिए वजह

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव भाजपा पर निशाना साधते हुए कहाकि, भाजपा कांग्रेस की तरह बर्ताव कर रही है। अभी आईटी टीम आई है अब ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) वाले भी आएंगे। अगर उनके पास पहले से जानकारी थी तो पहले कार्रवाई करनी चाहिए थी। आखिर अखिलेश ने क्यों की कांग्रेस से तुलना?

लखनऊ

Published: December 18, 2021 10:42:08 pm

लखनऊ. 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले शनिवार को उत्तर प्रदेश की सियासत में उस वक्त उबाल आ गया जब आयकर विभाग ने पश्चिम से लेकर पूर्वी यूपी के कई जिलों में अचानक छापेमारी शुरू कर दी। ये छापेमारी सपा के करीबियों के यहां की गयी। जिसमें राजीव राय, मनोज यादव और गजेन्द्र सिंह सहित 12 से ज्यादा नेताओं के नाम शामिल हैं जिनके आवास और प्रतिष्ठान पर आयकर विभाग ने छापा मारा। लखनऊ, मऊ, मैनपुरी और आगरा में हुई आयकर विभाग की इस कार्रवाई को सियासी हलकों में चुनावों से पहले दबाव की राजनीति करार दिया जा रहा है। इस छापेमारी से गुस्साए सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तो भाजपा की तुलना कांग्रेस से करते हुए कहा कि बीजेपी भी कांग्रेस की तरह बर्ताव कर रही है।
akhilesh_yadav_1.jpg
सीएम अखिलेश ने कहा-दबाव की राजनीति कर रही भाजपा

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव भाजपा पर निशाना साधते हुए कहाकि, भाजपा कांग्रेस की तरह बर्ताव कर रही है। अभी आईटी टीम आई है अब ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) वाले भी आएंगे। अगर उनके पास पहले से जानकारी थी तो पहले कार्रवाई करनी चाहिए थी। चुनाव से दो महीने पहले ये कार्रवाई हो रही है। जो कि दिखाता है कि आईटी और सीबीआई वाले भी चुनाव लड़ने आएंगे।
यह भी पढ़ें... आयकर छापों से गरमाई यूपी की सियासत, समाजवादी पार्टी के करीबियों के छापों से मचा हड़कंप

अखिलेश ने क्यों की कांग्रेस से तुलना?

आपको बता दें कि जब केन्द्र में मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यूपीए की सरकार थी। तब उसपर भी इसी तरह के आरोप लगते थे। उस समय सीबीआई का इस कदर दुरुपयोग हो रहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी मामले को लेकर टिप्पणी करनी पड़ी थी। सुप्रीम कोर्ट ने यूपीए शासनकाल में सीबीआई को पिंजरे में बंद तोता कहा था। बीजेपी ही नहीं दिल्ली सीएम केजरीवाल, ममता बनर्जी, मुलायम सिंह यादव भी तत्कालीन यूपीए सरकार पर ऐसी ही आरोप लगाए थे।
2013 में, जब केन्द्र में मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यूपीए की सरकार थी, तब अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव ने तत्कालीन सरकार पर इनकम टैक्स और सीबीआई के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए कहा था कि, “कांग्रेस व केंद्र सरकार के पास सिर्फ दो मुद्दे हैं, सीबीआई के जरिये विपक्ष को धमकाना और इनकम टैक्स के बहाने आर्थिक आधार पर दबाना। दोनों एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है।“

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE : राष्ट्र के नाम संबोधन में बोले राष्ट्रपति कोविंद - कोविड नियमों का पालन करना ही राष्ट्र धर्मRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.