तो इसलिए आसान नहीं होगी टीम इंडिया में सुरेश रैना की वापसी

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए सुरेश रैना को टीम इंडिया में शामिल नहीं किया गया है, रैना ने 25 अक्टूबर 2015 को आखिरी वनडे मैच खेला थ

By: Hariom Dwivedi

Published: 18 Aug 2017, 02:46 PM IST

लखनऊ. 20 अगस्त से श्रीलंका में खेली जाने वाली वनडे सीरीज के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है। इस टीम में युवराज सिंह के अलावा उत्तर प्रदेश के धाकड़ लेफ्ट ऑर्म बल्लेबाज सुरेश रैना को शामिल नहीं किया गया है। कहा जा रहा है कि राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी के यो-यो फिटनेस टेस्ट में वह फेल हो गए, जिसके चलते उन्हें श्रीलंका के खिलाफ शामिल नहीं किया गया है। लेकिन वरिष्ठ खेल विशेषज्ञों की मानें तो मौजूदा हालातों को देखते हुए सुरेश रैना के लिए टीम इंडिया में वापसी करना आसान नहीं होगा।

सुरेश रैना भारतीय टीम के दिग्गज बल्लेबाजों में से एक है। जररूत पड़ने पर वह विरोधी खिलाड़ियों के विकेट उखाड़ने में भी माहिर हैं। सुरेश रैना ने अब तक भारतीय टीम की तरफ से 223 वनडे मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 5 शतक और 36 अर्धशतकों की मदद से 5568 रन बनाए हैं। वनडे में उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 116 रन है। रैना ने वनडे मैचों में जरूरत के समय गेंदबाजी में भी कमाल दिखाते हुए 36 विकेट झटके हैं। गेंदबाजी में उनका बेस्ट स्कोर 3/34 है। इसके अलावा उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए 18 मैचों में एक शतक और 7 अर्धशतकों की मदद से 768 रन बनाए हैं।

सुरेश रैना को टी-20 का बेहतरीन खिलाड़ी माना जाता है। उन्होंने भारत के लिए अब तक 65 टी20 मैच खेले हैं। इंटरनेशनल स्तर पर रैना ने टी20 मैचों में एक शतक और 4 अर्धशतकों की मदद से कुल 1307 रन बनाए हैं। टी20 में उनका बेस्ट स्कोर 101 रन है। इसके अलावा उनकी गिनती टीम इंडिया के बेस्ट फील्डर्स में से होती है। उन्होंने वनडे मैचों में अब तक 100 कैच पकड़े हैं।

क्यों आसान नहीं है वापसी की राह
सुरेश रैना ने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच करीब दो साल पहले यानी 25 अक्टूबर 2015 को मुंबई में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। उस मैच में वह 12 रन बनाकर आउट हो गए थे। तब से उनकी वनडे टीम में वापसी नहीं हुई है। क्रिकेट के जानकारों की मानें तो हाल-फिलहाल में उनके लिए टीम में जगह बना पाना आसान नहीं होगा। क्योंकि सुरेश रैना मध्यक्रम में पांचवें-छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने आते रहे हैं, लेकिन अब इस स्थान पर अजिंक्य रहाणे , दिनेश कार्तिक, रवींद्र जड़ेजा और हार्दिक पांडया मजबूत दावेदारी पेश कर रहे हैं। हार्दिक पांड्या एक चुस्त-दुरुस्त फील्डर होने के साथ ही गेंद और बल्ले से भी धमाल मचा रहे हैं। कप्तान विराट कोहली भी हार्दिक पांड्या की जमकर तारीफ कर रहे हैं। ऐसे में सुरेश रैना के लिए टीम इंडिया में वापसी करना आसान नहीं होगा।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned