U- 19 World Cup 2018 : ऑस्ट्रेलिया को हराकर चौथी बार विश्व चैंपियन बना भारत, सुरेश रैना ने ट्वीट कर दी बधाई

अंडर-19 विश्वकप में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट हराकर चौथी बार विश्व चैंपियन बनी है, यूपी में जश्न का माहौल...

By: Hariom Dwivedi

Updated: 03 Feb 2018, 02:12 PM IST

लखनऊ. भारतीय जूनियर क्रिकेट टीम ने आईसीसी अंडर -19 क्रिकेट विश्वकप में जीत का परचम लहरा दिया है। न्यूजीलैंड के Mount Maunganui मैदान पर खेले गये फाइनल मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर चौथी बार खिताब जीत लिया। मैच में जीत के हीरो रहे मनजोत कॉलरा, जिन्होंने दमदार बल्लेबाजी करते हुए शानदार शतक बनाया। आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर चौथी बार फाइनल जीतने वाली इकलौती टीम का गौरव प्राप्त कर लिया। उत्तर प्रदेश में क्रिकेट प्रेमियों ने पटाखा छुटाकर और मिठाइयां खिलाकर जूनियर टीम की जीत का जश्न मनाया।

उत्तर प्रदेश के दो खिलाड़ी (शिवा सिंह और शिवम मावी) अंडर- 19 विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे। टूर्नामेंट में दोनों का प्रदर्शन शानदार रहा। बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज शिवा सिंह जहां पूरे टूर्नामेंट में दमदार प्रदर्शन किया, वहीं फाइनल में भी दो विकेट चटकाकर उन्होंने भारतीय टीम के जीत की नींव रखी।

सुरेश रैना ने ट्वीट कर दी बधाई
भारतीय टीम के दिग्गज बल्लेबाज व उत्तर प्रदेश के खिलाड़ी सुरेश रैना ने अंडर-19 विश्वकप में जीत पर खिलाड़ियों को बधाई दी है। सुरेश रैना ने ट्वीट करते हुए कहा कि यह टीम सच में जीत का माद्दा रखती थी। इस दौरान उन्होंने जूनियर इंडियन टीम के कोच राहुल द्रविड़ की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया की इस जीत में कोच राहुल द्रविड़ का बड़ा हाथ है। बता दें कि राहुल द्रविड़ जबसे भारतीय अंडर-19 टीम के कोच बने हैं, टीम लगातार दो बार फाइनल तक पहुंची है। उत्तर प्रदेश रणजी प्लेयर हिमांशु असनोड़ा ने भी टीम इंडिया को विश्व चैंपियन बनने पर बधाई दी है।

8 विकेट से जीतकर चैंपियन बना भारत
इस पूरे टूर्नामेंट में भारतीय टीम अपराजित रही। फाइनल मैच में भी कप्तान पृथ्वी शॉ की अगुआई में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया टीम इंडियन गेंदबाजों के सामने बेबस दिखी। ऑस्ट्रेलिया की पूरी जूनियर टीम 47.2 ओवरों में 2016 रन बनाकर ढेर हो गई। 2017 के रनों के स्कोर का पीछा करने उतरी टीम इंडिया के लिए सबसे अधिक रन दिल्ली के मनजोत कॉलरा ने बनाए। कॉलरा ने 102 गेंदों पर तीन छक्कों और आठ चौकों की मदद से 101 रनों की नाबाद पारी खेली। हार्विक देसाई 47 रन बनाकर नाबाद रहे। इससे पहले भी वर्ष 2012 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में हराकर वर्ल्ड चैंपियन बनी थी। भारत ने ये मैच आठ विकेट से जीत लिया।

मनजोत मैन ऑफ द मैच और गिल बने मैन ऑफ द सीरीज
विश्व कप के फाइनल मैच में शानदार प्रदर्शन के लिये मनजोत कॉलरा को मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया, वहीं शुभमन गिल को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज के अवार्ड से पुरस्कृत किया गया।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned