नगर विकास आशुतोष टण्डन ने किया गोमती नदी में जलकुंभी की सफाई का निरीक्षण

कर्मचारियों को गोमती नदी में जलकुम्भियों की सफाई व गंदगी पर रोक लगाने के दिए निर्देश

By: Ritesh Singh

Published: 28 May 2021, 05:29 PM IST

लखनऊ मंत्री नगर विकास आशुतोष टण्डन के द्वारा गोमती नदी से जलकुंभियों को हटाए जाने के संबंध में गोमती नदी के गोमती बैराज से पीपे वाले पुल तक का स्थलीय निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में उनके साथ महापौर संयुक्ता भाटिया एवं नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी भी मौजूद रहे। मंत्री द्वारा गोमती बैराज से लेकर हनुमान सेतु तक के निरीक्षण में की गयी सफाई पर संतोष व्यक्त किया गया। झूलेलाल से लेकर पक्का पुल तक के निरीक्षण में नदी में पाई गई जलकुम्भी को हटाने के निर्देश दिए गए। इसके अतिरिक्त कुड़ियाघाट के निरीक्षण में घाट तथा किनारे पर नदी की सफाई कराने के निर्देश दिए गए।

पीपेवाले पुल के पास में निरीक्षण के दौरान यह निर्देश दिए गए कि कुड़ियाघाट तक के जलकुम्भियों तथा वहां पर आ रही गंदगी को हटाई जाए। इसके अतिरिक्त निर्देशित किया कि नदी में नगर निगम की सीमा पर जाल लगाकर आने वाली जलकुंभी को रोका जाए। मंत्री द्वारा नदी में गिरने वाले नालों पर जाल लगाकर आने वाले ठोस अपशिष्ट को रोककर नदी को साफ सुथरा रखने के निर्देश दिए गए। मंत्री द्वारा सात बड़े नाले जैसे कि बरिकलां, फैजुल्लागंज-(अप स्टीम- जहाँ से नाले की शुरआत होती है),फैजुल्लागंज-(डाउन स्टीम- जहाँ पर नाला खत्म होकर नदी में मिलता है), सहारा सिटी, गोमती नगर ड्रेन, गोमती नगर विस्तार ड्रेन , घैला पोंड पर बायो रेमिएडेशन के माध्यम से जल शोधन का का कार्य किया जाना है। उसे शीघ्र कारवाई प्रारम्भ कराने के निर्देश दिए गए। सरकटा नाले के निरीक्षण के दौरान निर्देशित किया गया कि संपूर्ण नाले की सफाई अच्छे से कराया जाए जिससे जलभराव की समस्या का सामना आम जनता को ना करना पड़े।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned