कोरोना के चलते अंतर्राज्यीय बस सेवा बंद, फ्लाइट से आने वालों की होगी कोरोना जांच

Interstate Roadways Bus Services Stop: यूपी में अगले 15 दिन तक रोडवेज की बसें प्रदेश के बाहर नहीं जाएंगी। बसें सिर्फ प्रदेश में ही चलेंगी। यूपी में फ्लाइट से आने वालों की कोरोना जांच होगी। एक दिन में कोविड जांच का बना नया रिकॉर्ड। भाजपा प्रवक्ता और सपा के पूर्व सांसद की मौत।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ.

Interstate Roadways Bus Services Stop: कोरोना संक्रमण की तेज हो चुकी दूसरी लहर को कंट्रोल करने के लिये तमाम कदम उठाए जा रहे हैं। इस कड़ी में बसों के अंतर्राज्यीय संचालन पर रोक लगा दी गई है। अब अगले 15 दिनों तक रोडवेज बसें सिर्फ प्रदेश के अंदर ही चलेंगी। इसके अलावा बाहर से आने वालों की जांच कर उन्हें क्वारंटीन किया जाएगा। फ्लाइट से आने वाले सभी यात्रियों की जांच की जाएगी। उनके लिये कोविड नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की जाएगी।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने और इसपर कांट्रोल के लिये आवागमन को कम से कम करने को कहा है। इसके अलावा उन्होंने गांवों में आने वाले सभी प्रवासियों की टेस्टिंग कराने और उन्हें नियमानुसार क्वारंटीन करने का निर्देश दिया है। उन्होंने अस्पतालों में प्रशिक्षित मानव संसाधन की जरूरत को देखते हुए निर्देश दिये हैं कि जहां जैसी जरूरत हो मानव संसाधन उपलब्ध कराए जाएं। शिक्षा मंत्री को इस दिशा में कार्यवाही सुनिश्चित करने को कहा है।


18-44 साल का टीकाकरण, ऑक्सीजन की व्यवस्था

मुख्यमंत्री ने एक सप्ताह में एक ठोस प्लानिंग के साथ सभी जिलों में 18-44 आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू करने को कहा है। इसके अलावा उन्होंने कहा है कि ऑक्सीजन की डिमांड और सप्लाई को मेंटेन करने के लिये जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। इसके अलावा 5 मई से प्रदेश में पात्रों को निशुल्क खाद्यान्न वितरण भी शुरू हो रहा है। इस संबंध में कृषि उत्पादन आयुक्त स्तर से कार्य योजना तैयार करने को कहा है।


एक दिन में सबसे अधिक टेस्ट का रिकाॅर्ड

यूपी ने एक दिन में सबसे अधिक कोविड टेस्ट करने का रिकाॅर्ड बनाया है। मुख्यमंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक में इसकी जानकारी दी। उनके मुताबिक 24 घंटों में 2,97,021 सैंपल टेस्ट किये गए, जिनमें से 1,28,000 से ज्यादा टेस्ट आरटीपीसीआर से हुए। प्रदेश में अब तक 4.13 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं।


हर जिले में टीम-9

कोविड से पैदा हुए हालात से निपटने के लिये मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार हर जिले में टीम-9 का गठन होगा। इसके लिये नोडल अधिकारी नामित करते हुए बेहतर कोविड मैनेंजमेंट के लिये कार्य विकेन्द्रीकृत किये जाएं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने नाइट कर्फ्यू, साप्ताहिक बंदी को और प्रभावी ढंग से लागू करने को कहा है।


भाजपा प्रवक्ता और पूर्व सांसद का निधन

कोरोना संक्रमण के चलते दो प्रदेश के दो और बड़े नेताओं का निधन हो गया। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डाॅ. मनोज मिश्रा और मछलीशहर के पूर्व भाजपा सांसद वर्तमान सपा नेता राम चरित्र निषाद का कोरोना के चलते निधन हो गया। कानपुर के डीएवी काॅलेज में प्रोफेसर डाॅ. मनोज मिश्रा के कोविड पाॅजिटिव आने के बाद उनका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। हालत बिगड़ने के बाद वह वेंटिलेटर पर रखे गए थे, लेकिन उन्हें बचाा नहीं जा सका। उधर पूर्व सांसद राम चरित्र निषाद भी पिछले चार दिनों से नोएडा के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था, पर वह भी बच नहीं सके।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned