scriptKamlesh Tiwari Nyay Yatra in Lucknow | कमलेश तिवारी न्याय यात्रा प्रशासन ने रोकी,किया विरोध | Patrika News

कमलेश तिवारी न्याय यात्रा प्रशासन ने रोकी,किया विरोध

प्रदर्शन कर रहे लोगों को पुलिस ने लिया हिरासत में

लखनऊ

Published: November 26, 2021 06:29:20 pm

लखनऊ। हिन्दूवादी नेता कमलेश तिवारी के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी दिलाये जाने की मांग को लेकर आज यहां निकाली जाने वाली कमलेश तिवारी न्याय यात्रा को प्रशासन ने रोक दिया और मौके पर यात्रा शामिल हुये विभिन्न हिन्दू संगठनों में अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष त्रिदंडी महाराज, हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी, राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी, भारतीय जन-जन पार्टी के प्रमुख मनीष महाजन, कार्यवाहक राष्टï्रीय अध्यक्ष गौरव वर्मा, महादेव बाबा, युवा नेता मोहित मिश्रा, राजेश मणि त्रिपाठी, रजित राम प्रजापति, सुनील शुक्ला, महेश शुक्ला, बाबा श्याम सोनकर सहित दर्जनों नेताओं को पुलिस हिरासत में लेकर गाजीपुर थाने ले जाया गया।
कमलेश तिवारी न्याय यात्रा प्रशासन ने रोकी,किया विरोध
कमलेश तिवारी न्याय यात्रा प्रशासन ने रोकी,किया विरोध
जहां शाम तक सभी को रिहा कर दिया गया। तय कार्यक्राम के मुताबिक आज दोपहर लगभग दो बजे भारतीय जन-जन पार्टी के आह्ïवान पर कमलेश तिवारी न्याय यात्रा निकालने विभिन्न हिन्दू संगठनों के सैकड़ो नेता और कार्यकता इकट्ठा हुये और जैसे ही अखिल भारत हिन्दू महासभा के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष त्रिदंडी महाराज, हिन्दू महासभा प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचते ही कमलेश तिवारी न्याय दिलाने की मांग को लेकर नारेबाजी शुरू हो गयी और जैसे ही न्याय यात्रा शुरू होने लगी तभी वहां मौजूद पुलिस प्रशासन ने अनुमति न होने का हवाला देते हुये उसे रोक दिया।
जिससे यात्रा में शामिल होने आये सैकड़ों की संख्या में हिन्दू कार्यकर्ता भड़क गये और पैदल ही नारेबाजी करते हुये आगे बढऩे लगे, लेकिन वहां मौजूद पुलिस प्रशासन ने जबर्दस्ती आगे बढ़ रहे यात्रा में शामिल लोगों को रोक लिया और एकाएक लोगों को जबरन पुलिस की गाड़ी में बैठाकर हिरासत में ले लिया। जिन्हें गाजीपुर थाना लेकर शाम को छोड़ दिया। भारतीय जन-जन पार्टी के प्रमुख मनीष महाजन के निर्देशानुसार इस न्याय यात्रा को निकाले जाने का उद्देश्य हिंदूवादी कमलेश तिवारी के मामले को लखनऊ स्थानांतरित कर फास्टट्रैक कोर्ट में सुनवाई कर हत्या के दोषियों को फांसी सजा दिलाया जाना था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाआज 6 बजे इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी ने दी जानकारीसुबह 6 बजे टाइम कीपर के घर EOW का छापा, मकान देख दंग रह गए अफसरबसपा प्रत्याशी के पास सबसे अधिक गाडियाँ, अरिदमन हथियार रखने में आगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.