अब योगी और सिद्धा आमने सामने

अब योगी और सिद्धा आमने सामने

Anil Ankur | Publish: Jan, 14 2018 08:38:01 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

योगी बोले कर्नाटक की कानून व्यवस्था चौपट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी और कर्नाटक के सीएम सिद्धा आमने सामने हो गए हैं। कुछ दिन पहले ट्विटर पर कर्नाटक के सीएम सिद्धा रमैया से भिडऩे वाले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर कर्नाटक की कानून व्यवस्था पर हमला किया है। उन्होंने भरोसा जताया है कि कर्नाटक में आगामी विधानसभा चुनाव में राज्य की जनता कांग्रेस को करारा जवाब देगी। कर्नाटक की जनता समझदार है।

यह चर्चा अभी आम हुई थीे कि योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कर्नाटक में कानून व्यवस्था बेहद बुरी अवस्था में है। उन्होंने कहा कि उनका (भारतीय जनता पार्टी का) नारा विकास का है और वह कर्नाटक में भी उसी नारे पर काम करेंगे। उन्होंने भरोसा जताया कि राज्य सरकार को जनता करारा जवाब देगी। उन्होंने कहा कि सिद्धा रमैया गलत पहमी में हैं।

आम जनता की खुशहाली योगी सरकार और भारतीय जनता पार्टी का एक मेव लक्ष्य

लखनऊ 14 जनवरी 2018, भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेंद्र नाथ ? पाण्डेय ने कहा कि उत्तर प्रदेश की वर्तमान योगी सरकार जहां पर भी विकास में कोई कमी या आवश्यकता महसूस देखेगी वहां पर स्वतः संज्ञान लेकर सरकारी मशीनरी सक्रिय हो जाएगी और हमारे जनप्रतिनिधि उस जन अपेक्षाओं को पूरा करने में तत्काल सक्रिय होंगे। उत्तर प्रदेश की जनता की यही अपेक्षा भारतीय जनता पार्टी की सरकार से लगातार बनी हुई है और मुझे प्रदेश अध्यक्ष के नाते इस बात की खुशी है कि आदरणीय योगी जी की सरकार निरंतर जन आवश्यकताओं को लेकर जनता को संतुष्ट करने में सफल रही है।
पाण्डेय ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों को योगी जी की सरकार की सफलता और लोकप्रियता पच नहीं रही है इसलिए सरकार को हमेशा षड्यंत्रों का भी सामना करना पड़ रहा है अभी हाल में प्रदेश की जनता ने देखा कि लखनऊ में आलू किसानों के नाम पर एक राजनीतिक दल के पदाधिकारियों ने षड्यंत्र करके सैकड़ों बोरे सड़ा आलू विधानसभा के सामने गिरवाया जिससे सरकार को किसानों के नाम पर घेरा जा सके लेकिन भारतीय जनता पार्टी और उत्तर प्रदेश के अधिकारियों की सजगता से उस राजनीतिक दल की कलई खुल गई और सच्चाई उत्तर प्रदेश की जनता के सामने आ गई।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि भाजपा नेतृत्व की योगी सरकार की सफलता से राजनैतिक दल अपनी दुकाने बंद होते देख रहे है जिसके कारण यह दल अब राजनैतिक षड्यंत्रों पर उतारू हो गए है जब कि सरकार प्रदेश की आम जनता की खुशहाली ही योगी सरकार और भारतीय जनता पार्टी का एकमेव लक्ष्य है। पाण्डेय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व और मार्गदर्शन में सबके साथ सबके विकास को साकार करने हेतु सरकार निरंतर काम कर रही है। जबकि विपक्षी दल सरकार को सकारात्मक सहयोग देने के बजाय अधिकारियों को धमकाने का काम करने रहे है सम्भवतः वह भूल गए है कि प्रदेश की जनता ने मुख्यमंत्री की कुर्सी से उन्हें बेदखल कर दिया है।

बेंगलुरु में योगी आदित्यनाथ के भाषण पर आपत्ति जताते हुए कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि योगी को उनसे बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। उन्होंने इंदिरा कैंटीन का जिक्र करते हुए कहा कि उसे देखकर योगी को सीखना चाहिए कि ऐसी कैंटीन यूपी में भूख से हुई मौतों पर मदद कर सकती है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सिद्धारमैया के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा था कि कर्नाटक में सबसे ज्यादा किसानों ने खुदकुशी सिद्धारमैया के शासनकाल में की है। फिलहाल दोनों सीएम के बयानों से कर्नाटक की जनता अपना अपना मन बना रही है।

Ad Block is Banned