KGMU के डॉक्टरों ने बच्चे की किडनी से निकाला ढाई किलो का ट्यूमर

KGMU के डॉक्टरों ने बच्चे की किडनी से निकाला ढाई किलो का ट्यूमर
kgmu

Rohit Singh | Publish: Aug, 10 2016 10:56:00 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

अल्‍ट्रासाउण्‍ड कराया तो पता चला कि‍ बच्‍चे को बायें गुर्दे का ट़यूमर है। जिसके बाद परिजन ऋषभ को चलेकर केजीएमयू आये।

लखनऊ। केजीएमयू के पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग के डॉक्टरों ने एक बच्चे की किडनी में ढाई किलो के ट्यूमर को निकालने में सफलता प्राप्त की। ट्यूमर से बच्चे के पेट में लगातार सूजन बढ़ रही थी। आपरेशन के बाद बच्चा बिलकुल स्वस्थ है।

बता दें बाराबंकी के हैदरगढ नि‍वासी राहुल कुमार के पुत्र ऋषभ द्वि‍वेदी के पेट के बायें हि‍स्‍से में सूजन की शि‍कायत थी। धीरे-धीरे सूजन के लगातार बढने की वजह से बच्‍चे को बुखार आ रहा था।जब डाक्‍टरों ने अल्‍ट्रासाउण्‍ड कराया तो पता चला कि‍ बच्‍चे को बायें गुर्दे का ट़यूमर है। जिसके बाद परिजन ऋषभ को चलेकर केजीएमयू आये।

पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग के डॉ. जेडी रावत ने बच्चे का सीटी स्‍कैन कराया तो पता चला कि बच्चे को गूर्दे का टयूमर है जो पेट के अन्य अंगो (तिल्ली ,आमाशय बडी एवं छोटी आतो से ) तथा रक्त संचार की नलीयो से चिपका पडा है।

जिसके बाद प्रो जेडी रावत के नेतृत्‍व में डॅा सुधीर सिहं एवं डॅा दिगमबर चौबे , सिस्टर वन्दना ऐनेस्‍थेसि‍या की टीम में डॉ. अनिता मलिक एवं डॅा विनिता सिहं ने आपरेशन करना शुरू कि‍या। तकरीबन तीन घण्टे तक चले जटि‍ल सर्जरी के दौरान सारी नसों , आंतो को बचाकर निकाला गया लेकिन तिल्ली पूरी तरह से ट्यूमर में चिपकी हुए थी जो कि साथ में निकालना पडा यह एक मुशकिल आपरेशन था। आपरेशन के दौरान बच्‍चे को 2 यूनिट ब्लड चढाया गया और लगभग 2.5 किलो ग्राम का टयूमर निकाला गया।

इस बारे में डॉ. जेडी रावत ने बताया कि‍ कि‍डनी के कैंसर में गुर्दे की कोशिकाओं की एक असामान्य वृद्धि होती है, जो वास्तव में कि‍डनी टि‍श्‍यू ऊतक में एक ट्यूमर बन जाता है। कि‍डनी के कैंसर के विभिन्न प्रकार हैं, जिनमें से सबसे साधारण बच्चों में विल्म ट्यूमर और वयस्कों में कि‍डनी के सेल का कार्सिनोमा (हाईपरनेफ्रोमा भी कहा जाता है) होता है। उन्‍होंने बताया कि‍ अक्सर मूत्र के साथ खून आना या मूत्र का रंग रतुआ या गाढ़ा लाल है। यदि आप के पेट में दोनों तरफ लगातार टीस के साथ दर्द हो रहा है, तो बिना देरी किये डॉक्टर से परामर्श लेना चाहि‍ए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned