Kisan Kalyan Mission : यूपी के किसानों की ऐसे दोगुनी होगी आय, सीएम योगी का खास प्लान

- Kisan Kalyan Mission : किसानों की आय दोगुनी करने के लिए किसान कल्याण मिशन
- उत्तर प्रदेश के 825 विकास खंडों में होंगे किसान जागरूकता कार्यक्रम
- 06 जनवरी से 21 जनवरी तक उत्तर प्रदेश में चलेगा जागरूकता महाभियान

By: Hariom Dwivedi

Published: 06 Jan 2021, 03:03 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य लेकर उत्तर प्रदेश में किसान कल्याण मिशन (Kisan Kalyan Mission) शुरू हो चुका है। किसानों में जागरूकता बढ़ाने का यह अभियान 06 जनवरी से 21 जनवरी तक उत्तर प्रदेश के 825 विकास खंडों चलाया जाएगा। बुधावर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसान कल्याण मिशन का शुभारम्भ करते हुए किसानों को बधाई दी। कहा कि केंद्र सरकार के मंशानुरूप यूपी सरकार का लक्ष्य वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना है। लक्ष्य प्राप्ति की दिशा में बीजेपी सरकार मजबूती से आगे बढ़ रही है। सीएम योगी ने कहा कि किसान हित में ईमानदारी पूर्वक लागू की गईं योजनाओं का परिणाम है कि सॉयल हेल्थ कार्ड और सॉयल लेबोरेटरी की सुविधा सभी जनपदों के प्रत्येक विकास खंड पर उपलब्ध है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के जरिए प्राकृतिक आपदा से प्रभावित फसल के मुआवजे का लाभ कोई भी किसान ले सकता है।

लखनऊ के बंथरा में बाबा विनायक सिंह स्पोर्टस स्टेडियम में किसान कल्याण मिशन का शुभारम्भ करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसान पहली बार राजनीतिक एजेंडे में शामिल हो पाया है। इससे पहले किसान लोगों के लिए केवल वोट बैंक था। किसी योजना का भागीदार नहीं बन पाता था। देश ने जय जवान और जय किसान का नारा तो दिया, लेकिन किसान हाशिये पर रहा। मोदी सरकार के आने के बाद किसान मुख्य धारा में शामिल हुआ। 2014 से पहले किसान आत्महत्या कर रहे थे। मगर अब वो खुशहाली की तरफ बढ़ रहे हैं। हमारा कैबिनेट का सबसे पहला निर्णय किसानों के गन्ना भुगतान का रहा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर मोदी सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य में डेढ़ गुना की वृद्धि का काम किया है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के माध्यम से प्रत्येक किसान को 6,000 रुपए वार्षिक दिया जा रहा है। इसके अलावा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना से हर खेत को पानी उपलब्ध कराया गया है। वैज्ञानिक तकनीक से किसानों को जोड़कर उनको ड्रिप इरीगेशन की सुविधा दी जा रही है। किसान की लागत को कम करने और उत्पादकता को बढ़ाने में एक बड़ा कार्य आज देश में देखने को मिल रहा है। अब कृषि एवं कृषि आधारित गतिविधियों के विकास से किसानों की आय दोगुना करने के लिए सरकार ने
उन्नत किसान, आत्मनिर्भर प्रदेश का लक्ष्य लेकर किसान कल्याण मिशन शुरू किया है।

यह भी पढ़ें : अब घर बैठे ऐसे बनवाएं किसान क्रेडिट कार्ड, टोल फ्री नंबर और SMS की भी सुविधा

कैसे डबल होगी किसानों की इनकम
- फूड प्रोड्यूसर आर्गेनाइजेशन (एफपीओ) का ब्लॉक स्तर पर कार्यक्रम
- एफपीओ किसानों को मशीनरी और बीज उपलब्ध कराएंगे
- ब्लॉक स्तर पर किसान मेला और प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी
- प्रगतिशील किसानों को रोल मॉडल के तौर पर प्रमोट किया जाएगा
- किसानों को और आसानी से क्रेडिट कार्ड उलब्ध कराए जाएंगे
- न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपज बिक्री हेतु जागरूकता
- किसानों को कृषि रक्षा रसायनों का वितरण
- पराली प्रबंधन के विषय में जागरूकता
- जैविक व प्राकृतिक कृषि पद्धति के विषय में जागरूकता
- इंट्रीग्रेटेड फार्मिंग सिस्टम का प्रचार-प्रसार
- मुख्यमंत्री कृषक उपहार योजना में ट्रैक्टर सहित अन्य उपकरणों का वितरण
- गन्ने की खेती, नई तकनीक, नई प्रजाति, अंतर फसलीय प्रणाली व ड्रिप इरिगेशन प्रणाली का प्रचार प्रसार
- खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए अनुदान
- दुधारू पशुओं के नस्ल सुधार के लिए राष्ट्रीय कृतिम गर्भाधान कार्यक्रम
- पशुओं का टीकाकरण, ईयर टैगिंग
- कृषि व्यवसाय आधारित स्वयं सहायता समूह के उत्पादों की प्रदर्शनी
- मनरेगा से जुड़े कृषि कार्यों का प्रचार-प्रसार
- मिशन शक्ति के तहत महिला कृषकों की सहभागिता

अब तक किसानों के लिए क्या किया
- 86 लाख लघु व सीमांत किसानों का 36000 करोड़ की कर्ज माफी
- पीएम किसान सम्मान निधि में किसानों को दिये 27101 करोड़
- गन्ना किसानों को 1.15 लाख करोड़ रुपए का भुगतान
- एमएसपी पर किसानों से 60 हजार करोड़ रुपए का खाद्यान्न खरीदा
- 20 चीनी मिलों का आधुनिकीकरण व विस्तार

यह भी पढ़ें : 10वीं पास युवाओं को बिना गारंटी मिलता है 25 लाख तक लोन, ऐसे करें Apply

BJP Narendra Modi
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned