राजधानी में कई पुलिस थानों में भी मनाई जा रही जन्माष्टमी, थानेदार बनेंगे 'पुजारी'

राजधानी में कई  पुलिस थानों में भी मनाई जा रही जन्माष्टमी, थानेदार बनेंगे 'पुजारी'

Prashant Srivastava | Publish: Sep, 03 2018 05:05:52 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

जन्माष्टमी का त्योहार राजधानी में धूम-धाम से मनाया जा रहा है। केवल घर व मंदिरों में नहीं बल्कि पुलिस थानों व चौकियों में भी ये त्योहार मनाया जा रहा है।

लखनऊ. जन्माष्टमी का त्योहार राजधानी में धूम-धाम से मनाया जा रहा है। केवल घर व मंदिरों में नहीं बल्कि पुलिस थानों व चौकियों में भी ये त्योहार मनाया जा रहा है। माना जाता है कि कान्हा का जन्म जेल में हुआ था। ऐसे में पुलिस थानों में कान्हा के जन्मोत्सव मनाया जाता है। राजधानी लखनऊ में खासतौर से आलमबाग थाने, सुल्तानगंज चौकी, कैसरबाग की चाइना बाजार चौकी समेत शहर की कई चौकियों व थानों में जन्माष्टमी मनाने की तैयारी चल रही है। आलमबाग थाना प्रभारी बृजेश सिंह ने बताया कि रात में पूजा होगी। इस दौरान सभी को प्रसाद दिया जाएगा। आस-पास के लोग व कैदियों को भी ये प्रसाद दिया जाता है।

थानों में धूम-धाम से मनती है जन्माष्टमी

वहीं हजरतगंज थाना प्रभारी ने बताया कि थानों में जन्माष्टमी हमेशा ही धूम-धाम से मनाई जाती है। इसमें आस-पास के भी कई बार हिस्सा लेते हैं। थाने में बने मंदिर को सजाया जाता है आलमबाग निवासी देवेंद्र ने बताया कि वे भी थानें कृष्ण जन्मोत्सव में हिस्सा लेने पहले गए हैं। उन्होंने बताया कान्हा के लिए झूला भी मंगाया जाता है। वहीं हलवाई लगाकर प्रसाद भी तैयार किया जाता है।

कई थानों के पास है मंदिर

राजधानी में कई थाने व चौकियां ऐसी हैं जो मंदिर के पास में हैं। ऐसे में वहां कृष्ण जन्मोत्सव धूम-धाम से मनाया जाता है। राजधानी में पुलिस लाइन, खाटू श्याम धाम, गणेशगंज समेत कई स्थानों पर तैयारी पूरी कर ली गई हैं। जन्माष्टमी को लेकर पुलिस लाइन में विशेष तैयारियां पूरी हो गई हैं। यहां भगवान श्रीकृष्ण कई अवतार में दिखेंगे।व वहां बने पंडाल में कलाकार मयूर नृत्य, फूलों की होली समेत कई कार्यक्रम की प्रस्तुति देगें तो स्कूली बच्चों की संजीव झांकी आकर्षक का केंद्र होगीं।

कई जगहों पर तैयारी पूरी

इसके अलावा खाटूश्याम, इस्कान मंदिर, डालीगंज माधव मंदिर में विशेष तैयारी की गई है। बता दें कि रविवार की शाम 5:09 बजे से अष्टमी का मान शुरू हो गया था जोकि सोमवार शाम तक रहेगा।हरिसभा मंदिर ट्रस्ट, मकूबलगंज में 2, 3 सितंबर और 17 सितबंर को राधा अष्टमी धूमधाम से मनाई जाएगी। ट्रस्टी प्रेसीडेंट अशोक कुमार विश्वास ने बताया कि 2 सितंबर को सुबह गीता पाठ, प्रवचन और शाम को आरती और रात 11 बजे जन्माष्टमी पूजा होगी। पुजारी तारक नाथ भट्टाचार्या ने बताया कि 3 सितंबर को जन्माष्टमी व्रत की पूजा, नन्दोत्सव, महाप्रसाद वितरण, शाम की आरती के बाद पालाकीर्तन का आयोजन होगा, जिसमें बंगाल से आए कलाकार प्रस्तुति देंगे. 4 सितंबर से 16 सितंबर तक प्रतिदिन शाम को विरेन्द्रनाथ दास श्रीमद् भागवत पाठ करेंगे. 17 सितंबर को श्रीश्री राधाष्टमी पूजा तथा नाम यज्ञ होगा।

 

Ad Block is Banned