इन्वेस्टर समिट से पहले बड़ी कार्रवाई, भारी विरोध के बीच हटाया लेडी माफिया का कब्ज़ा

भारी विरोध के बीच हटाया लेडी माफिया का कब्ज़ा, पीएसी करेगी ज़मीन की हिफाजत

By: Dikshant Sharma

Published: 10 Feb 2018, 08:24 PM IST

लखनऊ. लखनऊ विकास प्राधिकरण और लखनऊ पुलिस की ओर से बड़ी कार्रवाई की गई है। 104 भूखंडों पर से अवैध कब्जों को हटाया गया। इस दौरान अतिक्रमण विरोधी दस्ते को भारी विरोध का सामना भी करना पड़ा। हालांकि पुलिस और पीएसी की मौजूदगी के चलते विरोध कार्रवाई के बीच रोड़ा नहीं बन सका। अवैध कब्जे हटने से उन आवंटियों ने राहत की सांस ली है, जिनके नाम उक्त भूखंड आवंटित हुए थे। जल्द ही वे वहां अपना आशियाना बना सकेंगे।

क्या था मामला
अलीगंज में पुराने हनुमान मंदिर के पीछे एलडीए के करीब 104 व्यावसायिक भूखंड थे। इनमें से 68 भूखंड आवंटियों को बेचे भी जा चुके थे। समय के साथ इन भूखंडों पर झुग्गी-झोपडिय़ां बन गई। इस अवैध कब्ब्ज़े के चलते आवंटी परेशान थे। वे लगातार अपने हक के लिए एलडीए के चक्कर काट रहे थे। जानकारों का मानना था कि एक लेडी भूमाफिया उक्त भूखंडों पर निर्माण नहीं होने दे रही थी। आवंटियों की ओर से नजूल अधिकारी एलडीए से शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिसके बाद हाजरा खातून का नाम एलडीए ने एंटी भू माफिया टास्क फोर्स को सौंपी लिस्ट में दिया था। इसके बाद ही कार्रवाई की रुपरेखा तैयार की गई।

दोनों विभागों का कंबाइन एक्शन
वीसी के निर्देश पर शनिवार को एलडीए की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस और पीएसी की मौजूदगी में अवैध कब्जे हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। एलडीए अधिकारियों की माने तो जैसे ही कार्रवाई शुरू हुई लेडी भूमाफिया और उसके सहयोगियों ने विरोध करना शुरू कर दिया। लेकिन संगीनों के साय में यह विरोध ज्यादातर देर नहीं चला। देर शाम तक चली कार्रवाई के दौरान भूखंडों को अवैध कब्जों से मुक्त करा लिया गया।

जल्द बनाई जाएगी बाउंड्रीवॉल
नजूल अधिकारी विश्वभूषण मिश्र ने बताया कि अवैध कब्जों को हटाने के बाद अब उक्त भूखंडों के आसपास बाउंड्रीवॉल का निर्माण कराया जाएगा। ऐसे इसलिए किया जाएगा ताकि वहाँ कोई दोबारा अवैध कब्जा न कर पाए। रविवार से बाउंड्रीवॉल का निर्माण शुरू करवा दिया जाएगा। बाउंड्रीवॉल बनने तक के पर पीएसी तैनात रहेगी।

एलडीए वीसी पीएन सिंह ने कहा कि इंवेस्टर्स समिट से पहले लखनऊ पुलिस की मदद से अलीगंज थाना एरिया में 104 कॉमर्शियल प्लॉट्स को अवैध कब्जों से मुक्त करा लिया गया है। आवंटियों को इस कदम से राहत मिलेगी।

Dikshant Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned