scriptLife imprisonment to the cowherd who sells adulterated milk | मिलावटी दूध बेचने वाले ग्वाले को 23 साल बाद कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा, 20 हजार जुर्माना | Patrika News

मिलावटी दूध बेचने वाले ग्वाले को 23 साल बाद कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा, 20 हजार जुर्माना

उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले में मिलावटी दूध बेचने वाले एक ग्वाले को अपर सत्र न्यायाधीश रेखा सिंह ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आरोपी ग्वाले पर 20 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। आपको बता दें कि कोर्ट ने अपना यह फैसला 23 साल बाद सुनाया है।

लखनऊ

Published: April 09, 2022 07:25:28 pm

अक्सर दूध और दही से लेकर तमाम खाने व पीने की चीजें मिलावटी निकल ही जाती हैं। इन प्रोडक्ट को जांच में पकड़ लिया तो ठीक वरना कुछ पता नहीं चलता। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले (Maharajganj District) में देखने को मिला जहां मिलावटी दूध बेचने वाले एक ग्वाले को 23 साल बाद कोर्ट (Court) ने अपना फैसला सुनाया है। इसके साथ ही कोर्ट ने आरोपी ग्वाले को आजीवन कारावास और 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। यह फैसला अपर सत्र न्यायाधीश रेखा सिंह (Additional Sessions Judge Rekha Singh) की अदालत ने दिया है।
court.jpg
यहां जानिए पूरा मामला

दरअसल, मई 1999 में फरेंदा रोड ऑफीसर्स कॉलोनी के पास खाद्य निरीक्षक एमएल गुप्ता को मिलावटी दूध बेचे जाने की शिकायत मिली थी। उस समय खाद्य निरीक्षक ने आरोपी के दूध का सैंपल जांच के लिए भेजा था। जांच में दूध में यूरिया मिश्रित करने का मामला आने के बाद खाद्य निरीक्षक ने चौक थाना क्षेत्र के खजुरिया निवासी रामसजन के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने इस मामले में आरोप पत्र न्यायालय में भेजा था।
धारा 272, 273 में सुनाया फैसला

23 साल बाद इस मामले में आरोपी ग्वाला राम सजन को अपर सत्र न्यायाधीश रेखा सिंह ने भादवि की धारा 272, 273 में फैसला करते हुए उम्रकैद के साथ 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। इससे पहले शाहजहांपुर में साल 1997 में जहरीले आटे से बनी रोटी खाने से 14 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में कोर्ट ने 2 लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई। इन पर 60-60 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया। अदालत का यह फैसला 25 साल बाद आया था।
गौरतलब है कि अपर सत्र न्यायाधीश ने 23 साल पुराने मिलावटी दूध मामले में चौक थाना क्षेत्र के खजुरिया निवासी ग्वाला रामसजन को उम्र कैद की सजा सुनाई है। वहीं दूसरी तरफ कोर्ट का फैसला आने के बाद इलाके में चर्चाओं का दौर जारी है। इस मामले में सहायक शासकीय अधिवक्ता सर्वेश्वर मणि त्रिपाठी एवं चंद्र प्रकाश पटेल ने पत्रावली का अवलोकन कर चार गवाहों को पेश कर बहस किया और कड़ी सजा की मांग कोर्ट से की।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

IPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाWatch: टेक्सास के स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र का दबाया गला, VIDEO देख भड़की जनताHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.