मायावती पर दिया ऐसा विवादित बयान, जयाप्रदा पर हो गया मुकदमा दर्ज, विवादित बोलों पर नहीं लग रही लगाम

मायावती पर दिया ऐसा विवादित बयान, जयाप्रदा पर हो गया मुकदमा दर्ज, विवादित बोलों पर नहीं लग रही लगाम

Neeraj Patel | Updated: 22 Apr 2019, 06:25:13 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

रामपुर से बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा ने मायावती पर विवादित बयान दिया। इस पर उन पर केस दर्ज किया गया है। कथित तौर पर उन्होंने अपने ऊपर आजम खान द्वारा गए कॉमेंट पर कहा था कि मायावती जी आपको अवश्य सोचना चाहिए, उनकी ए€स-रे जैसी आंखें आपके ऊपर भी कहां-कहां डालकर देखेगी।

लखनऊ. सूबे में तीसरे चरण के लिए मतदान मंगलवार को होगा। इस दौर के चुनाव प्रचार को नेताओं की तल्खी के लिए जाना जाएगा। भाजपा,सपा-बसपा और कांग्रेस सभी दलों के नेताओं ने इस दौर के चुनाव प्रचार मेे न केवल आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया बल्कि धर्म और आस्था के साथ भी खिलवाड़ करने की कोशिश की गयी। यह सब तब हुआ जबकि चुनाव आयोग ने नेताओं के बिगड़े बोल की वजह से उनके चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगा दिया था। योगी आदित्यनाथ, बसपा प्रमुख मायावती, केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी और सपा नेता आजम खान जैसे नेताओं पर प्रतिबंध लगा था। लेकिन प्रतिबंध खत्म होते ही जब यह फिर से चुनाव प्रचार में उतरे तो उनकी वाणी पर नियंत्रण नहीं रहा। तीसरे चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन यानी रविवार को तमाम नेताओं ने जहर उगला।

रामपुर से बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा ने बीएसपी सुप्रीमो को लेकर विवादित बयान दिया। इसको लेकर उनके ऊपर केस दर्ज किया गया है। कथित तौर पर उन्होंने अपने ऊपर आजम खान द्वारा गए कॉमेंट पर कहा था कि मायावती जी आपको अवश्य सोचना चाहिए, उनकी एक्स-रे जैसी आंखें आपके ऊपर भी कहां-कहां डालकर देखेगी।

गाड़ी में सपा का झंडा, तो उसमें गुंडा - सीएम

घाटमपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां भाजपा प्रत्याशी देवेंद्र सिंह भोले के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। सीएम ने सपा कार्यकर्ताओं पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस गाड़ी में सपा का झंडा लगा हो समझें उसमें गुंडा बैठा हुआ है। सीएम ने कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि केंद्र में पूर्व की सरकारों ने हमेशा तुष्टिकरण और जाति विशेष के पक्ष में काम किया। जबकि, नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा सरकार ने समाज के हर वर्ग का ध्यान रखा है। भाजपा किसी भी योजना का लाभ जाति अथवा वोट देखकर नहीं बल्कि प्रत्येक गरीब, नौजवान, महिलाओं और जरूरतमंदों को देगी। स्थानीय मुद्दों पर सीएम ने कहा कि जाम से निजात के लिए मुगल रोड और कानपुर सागर मार्ग का चौड़ीकरण, उपरिगामी सेतु (ओवर ब्रिज) का काम शुरू कर दिया गया है। भोगनीपुर से चौडगरा के मध्य रेलवे लाइन बिछाने के लिए खाका बनकर तैयार हो चुका है।

रिश्ते में हम योगी के बाप: सलमान खुर्शीद

फर्रुखाबाद. यहां से कांग्रेस प्रत्याशी सलमान खुर्शीद ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लेकर विवादित बयान दिया है। पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने मुख्यमंत्री के बटाला हाउस घटना से जोडकऱ दिये गए बयान पर कहा कि मुझे खुशी है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुझसे अपनी लड़ाई मानते हैं। खुर्शीद ने कहा कि बटाला हाउस पर जो बयान योगी आदित्यनाथ ने दिया है, उस पर वह जब चाहें, जहां चाहें बहस कर लें। बेहतर होगा कि वह किसी गौशाला में बहस करें ताकि यह पता लगे कि गाय उनके साथ है या मेरे साथ। रिश्ते में हम योगी आदित्यनाथ के बाप लगते हैं। मगर बेटा बड़ा नकारा निकला। गौमाता को खाना भी पूरा नहीं पहुंचाता। किसी और से चोरी करें तो कोई बात नहीं, जिसे मां कहा उससे चोरी की। चोरी तो भगवान श्रीकृष्ण करते थे, लेकिन वह तो माखन की करते थे, सीएम योगी आदित्यनाथ तो चारे की चोरी करते हैं।

अब्दुल्ला ने जयाप्रदा को 'अनारकली' कहा

रामपुर. समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आजम खान के बयान के बाद बाद अब उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान का बयान चर््चा में है। उन्होंने बीजेपी की प्रत्याशी जयाप्रदा के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी की है। आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम खान ने जयाप्रदा के लिए जिस शब्द का इस्तेमाल किया है, उससे एक बार फिर सियासी सरगर्मी बढ़ने के आसार हैं। रामपुर में चुनावी रैली के दौरान अब्दुल्ला ने जयाप्रदा के लिए अप्रत्यक्ष तौर पर अनारकली शब्द का इस्तेमाल किया है। अब्दुल्ला ने मंच से कहा कि अली भी हमारे, बजरंगबली भी हमारे। हमें अली भी चाहिए और बजरंग बली भी चाहिए लेकिन अनारकली नहीं चाहिए। उनके इस बयान के बाद एफआईआर दर्ज कर ली गई है, अब आजम के बाद बेटे पर भी केस दर्ज है।

मुझे वोट न भी दें तो कोई दिक्कत नहीं : वरुण गांधी

पीलीभीत. पीलीभीत से भाजपा उम्मीदवार वरुण गांधी ने एक विवादित बयान दिया है। वरुण ने कहा है कि यह अगर मुसलमान उन्हें वोट नहीं देंगे तो भी कोई समस्या नहीं। एक चुनावी सभा में गांधी ने कहा, मैं अपने मुस्लिम भाइयों से सिर्फ एक बात कहना चाहता हूं। अगर आप मुझे वोट देंगे तो मुझे बहुत खुशी होगी। लेकिन अगर आप वोट नहीं भी देंगे तो भी कोई समस्या नहीं। आप तब भी अपने काम के लिए मेरे पास आ सकते हैं। उन्होंने आगे कहा, "लेकिन अगर आपके वोट चीनी की तरह मेरी चाय के साथ मिल जाते हैं, तो मेरी चाय मीठी हो जाएगी"। इसके पहले केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने 12 अप्रेल को सुल्तानपुर में एक सार्वजनिक संबोधन में कहा था कि सुल्तानपुर लोकसभा क्षेत्र से उनकी जीत मुस्लिमों के समर्थन के साथ या उसके बिना निश्चित है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned