सपा-बसपा के बाद भाजपा भी लखनऊ में बनायेगी अपने महापुरुषों स्मारक वाला पार्क

राजधानी में उसके नाम भी कोई 100-50 एकड़ का पार्क निर्माण जुड़ जाये।

By: Ritesh Singh

Updated: 25 Oct 2020, 09:01 PM IST

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के स्थापत्य को बदलने में महत्वपूर्ण योगदान रखने वाले आधुनिक पार्क समाजवादी पार्टी व विशेषकर बहुजन समाज पार्टी के कार्यकाल में बने। लखनऊ में आधुनिक पार्क देने के जन्मदाता स्वर्गीय लालजी टंडन की पहल को पार्टी के भीतर यदि समय रहते विस्तार मिलता तो राजधानी में भाजपा का भी नाम जुड़ चुका होता। दुर्भाग्य से जब लखनऊ को अच्छे पार्क देने की बात चलती है तब सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी निरुत्तर हो जाती है।

नेतृत्व को इस बात की टीस भी रहती है और जनता के सामने पार्टी नेता बगले झांकने लगते हैं। मुलायम सिंह यादव की पार्टी ने हरा भरा लोहिया पार्क तथा विश्वस्तरीय जनेश्वर मिश्र पार्क दिया। बसपा सुप्रीमों मायावती ने तो आधुनिक लखनऊ की स्थापत्य ही बदल दिया। लक्षण द्वारा स्थापित शहर कब से नवाबों का शहर बन गया था इस पर बहस ही समाप्त हो चला था। लेकिन बसपा सुप्रीमों मायावती ने कब इस शहर की चौहद्दी को दलित महापुरुषों की मूर्तियों से जगमगा कर ऐसा आधुनिक लखनऊ को निखारा कि बिना विवाद नवाबी लखनऊ गुम सा हो गया। भाजपा के पास यह बताने को नहीं है कि राजधानी में उसके नाम भी कोई 100-50 एकड़ का पार्क निर्माण जुड़ जाये।

अब एलडीए की बसंत कुंज योजना में प्रस्तावित अटल राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल की डीपीआर पर मुख्यमंत्री ने सहमति दे दी है। प्रेरणा स्थल पर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी तथा पंडित दीनदयाल उपाध्याय की करीब 65-65 फुट ऊंची मूर्ति लगाई जाएगी। अटल राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल को अब अंतिम रूप दिया जा रहा है। डीपीआर की मंजूरी मिलने के बाद शासन ने इसे वित्त विभाग को भेज दिया है। वित्त विभाग की सहमति के बाद प्राधिकरण इसके निर्माण से संबंधित टेंडर की प्रक्रिया शुरू करा देगा।
इसके शुरुआती कामों के लिए सरकार ने पहले ही बजट में 50 करोड़ रुपए स्वीकृत कर रखा है। अटल राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल पर करीब 30 एकड़ में एक रैली स्थल भी बनाने की तैयारी की गई है। यह रैली स्थल कंक्रीट की बजाए हरा भरा होगा। इसे भी मुख्यमंत्री की सहमति मिल चुकी है।इस संदर्भ में एलडीए के मुख्य अभियंता इंदू शेखर सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल पर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई की करीब 65 फुट ऊंची मूर्ति लगाई जाएगी। शासन से इसकी अनुमति मिल गई है देश के सबसे बड़े मूर्तिकार से मूर्ति ब

BJP
Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned