scriptLucknow Akhilesh Yadav target angry Mayawati BJP give Support | अखिलेश पर बरसीं नाराज मायावती, कहा, सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना होगा तो देंगे | Patrika News

अखिलेश पर बरसीं नाराज मायावती, कहा, सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना होगा तो देंगे

बसपा सुप्रीमो मायावती ने बसपा के सात बागी विधायकों को बसपा से किया निलम्बित

लखनऊ

Published: October 29, 2020 12:12:12 pm

लखनऊ. राज्यसभा चुनाव में यूपी की दस सीटों के लिए बुधवार को यूपी की राजनीति में काफी हलचल रही। बसपा के सात बागियों ने बसपा से बगावत कर काफी सुर्खियां बटोरीं। इन सात बागी बसपा विधायकों से बुरी तरह नाराज बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने इन्हें पार्टी से निलम्बित करने के बाद समाजवादी पार्टी पर बुरी तरह फायर हुईं। मायावती ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के बारे में कहाकि, अखिलेश का भी एक दिन बुरा हाल होगा। उन्होंने ने कहाकि समाजवादी पार्टी को हराने के लिए अगर हमें भाजपा को वोट देना पड़ेगा तो हम देंगे। भाजपा से मिले होने के प्रचार पर मायावती ने सफाई देते हुए साफ-साफ कहाकि, गलत है।
अखिलेश पर बरसीं नाराज मायावती, कहा, सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना होगा तो देंगे
अखिलेश पर बरसीं नाराज मायावती, कहा, सपा को हराने के लिए भाजपा का साथ देना होगा तो देंगे
समाजवादी पार्टी से बसपा का गठबंधन भारी भूल :- बसपा मुखिया ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहाकि, समाजवादी पार्टी से बसपा का गठबंधन हमारी भारी भूल है। गठबंधन जल्दबाजी में लिया गया फैसला था। समाजवादी पार्टी दलित विरोधी पार्टी है। सपा ने कभी भी अपना गठबंधन धर्म नहीं निभाया। हमारी पार्टी ने लोकसभा चुनाव में सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए सपा से हाथ मिलाया था लेकिन उनके पारिवारिक अंतरकलह की वजह से बसपा के साथ गठबंधन कर भी वो ज्यादा लाभ नहीं उठा पाए।
हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे :- मायावती ने स्पष्ट कहा है कि राज्यसभा चुनावों में हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे। इसके लिए हम अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे। इसके लिए अगर हमें भाजपा या किसी अन्य पार्टी के प्रत्याशी को अपना वोट देना पड़े तो हम वो भी करेंगे।
मुकदमा वापस लेना एक बड़ी गलती :- नाराज मायावती ने कहाकि, मैं इस बात का खुलासा करना चाहती हूं कि जब हमने यूपी में लोकसभा चुनाव के लिए सपा के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया तो हमने इसके लिए बहुत मेहनत की, लेकिन जब से यह गठबंधन हुआ था तब से सपा प्रमुख की मंशा दिखने लगी थी। वो एसपी मिश्रा से लगातार यह कहते रहे कि चूंकि बसपा-सपा ने हाथ मिला लिया है, इसलिए अब मायावती को जून 1995 वाला मुकदमा वापस ले लेना चाहिए। लोकसभा चुनाव परिणामों के बाद समाजवादी पार्टी के बदले व्यवहार को देखा तो महसूस किया कि हमने उनके मुकदमा वापस लेकर एक बड़ी गलती की है।
सतीश चंद्र मिश्रा का फोन ही नहीं उठाया :- मायावती ने कहाकि, मेरी पार्टी ने फैसला किया था कि अगर अखिलेश यादव राज्यसभा चुनाव में अपनी पत्नी डिंपल यादव को मौका दे रहे हैं, तो बसपा उनका समर्थन करने के लिए तैयार है। सतीश चंद्र मिश्रा ने सपा नेता से संपर्क करने की कोशिश की, पर उन्होंने अपना फोन नहीं उठाया और राज्य के सभी ब्राह्मण समुदाय के लोगों का अपमान है। बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने कहा कि सभी जानते हैं कि सपा शासन में माफिया, गुंडे राज्यों पर कैसे राज करते हैं। वे फिर से लोगों को बे-वकूफ बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: बीजेपी ऐसे भिखारियों का हाथ पकड़कर खुद को बता रही महाशक्ति.. ‘सामना’ के जरिए फिर शिवसेना ने कसा तंजकेरल में राहुल गांधी के दफ्तर पर हुए हमले के बाद बड़ी कार्रवाई, DSP निलंबित, ADGP करेंगे मामले की जांच25 जून 1983, 39 साल पहले भारत ने रचा था इतिहास, लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतकर लहराया तिरंगाकौन हैं तपन कुमार डेका, जिन्हें मिली इंटेलिजेंस ब्यूरो की कमानपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायकों और उनके परिवारों की सुरक्षा के लिए महाराष्ट सरकार जिम्मेदार: एकनाथ शिंदेMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारीकर्नाटक के बेलागवी जिले में कनस्तर में मिले 7 भ्रूण, स्वास्थ्य विभाग ने दिए जांच के आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.