यूपी में इस जंगलराज में कानून-व्यवस्था गुंडों के सामने सरेंडर कर चुकी है : प्रियंका गांधी

उत्तर प्रदेश में बर्रा अपहरणकांड में अपहृत लैब टेक्नीशियन संजीत की हत्या
अखिलेश यादव व मायावती ने भी योगी सरकार को घेरा

By: Mahendra Pratap

Published: 24 Jul 2020, 12:14 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में बर्रा अपहरणकांड में अपहृत लैब टेक्नीशियन संजीत की हत्या की खबर के बाद यूपी की कानून व्यवस्था पर अंगुलियां उठने लगी है। सुरक्षा को लेकर जनता भयभीत हो गई है। विपक्षी दलों ने उत्तर प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी को घेरा। और उन पर कई तीखे वार किए। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने इस मुद्दे को लेकर कहाकि इस जंगलराज में कानून-व्यवस्था गुंडों के सामने सरेंडर कर चुकी है। बहुजन समाज पार्टी मुखिया मायावती ने यूपी सरकार से मांग की है कि प्रदेश सरकार खासकर अपराध-नियंत्रण व कानून-व्यवस्था के मामले में तुरन्त हरकत में आए। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भी योगी सरकार पर निशाना साधा।

उत्तर प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था पर सीएम योगी को आइना दिखते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को अपने ट्विट में लिखा कि उप्र में कानून व्यवस्था दम तोड़ चुकी है। आम लोगों की जान लेकर अब इसकी मुनादी की जा रही है। घर हो, सड़क हो, ऑफिस हो कोई भी खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करता।

एक नया गुंडाराज आया है : प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने अपने ट्विट में आगे लिखा कि, विक्रम जोशी के बाद अब कानपुर में अपहृत संजीत यादव की हत्या। खबरों के मुताबिक पुलिस ने किडनैपर्स को पैसे भी दिलवाए और अब उनकी हत्या कर दी गई। एक नया गुंडाराज आया है। इस जंगलराज में कानून-व्यवस्था गुंडों के सामने सरेंडर कर चुकी है।

बीएसपी की मांग, तुरंत हरकत में आए सरकार : मायावती

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने ट्विट पर लिखा कि, यूपी में जारी जंगलराज के दौरान एक और घटना में कानपुर में अपहरणकर्ताओं द्वारा संजीत यादव की हत्या करके शव को नदी में फेंक दिया गया जो अति-दुःखद व निन्दनीय। प्रदेश सरकार खासकर अपराध-नियंत्रण व कानून-व्यव्स्था के मामले में तुरन्त हरकत में आए, बीएसपी की यह मांग है।

अपहरण भाजपाराज के शर्मनाक क्षरण का प्रतीक : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को अपने ट्विट पर लिखा कि कानपुर से अपहृत युवक का अब तक कोई पता नहीं चला है, उप्र का शासन एवं पुलिस प्रशासन दोनों इस मामले में पूरी तरह से निष्क्रिय क्यों हैं? आशा है युवक सही सलामत अपने परिवार तक पहुँच पायेगा। ये अपहरण भाजपा के राज के शर्मनाक क्षरण का प्रतीक है।

BJP
Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned