कोरोनावायरस की वजह से शुक्रवार की नमाज अगले आदेश तक स्थगित

- मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने जारी किया आदेश
- आसिफी मस्जिद में शुक्रवार की नमाज पर लगाई रोक
- कोविड-19 बढ़ते केस की वजह से उठाया गया यह कदम

By: Mahendra Pratap

Updated: 17 Apr 2021, 01:18 PM IST

लखनऊ. यूपी में कोरोनावायरस का आतंक फैल गया है। प्रतिदिन कोरोना की नई रिपोर्ट नए रिकार्ड कायम कर रही है। यूपी में इस वक्त नवरात्र और रोजा का त्यौहार चल रहा है। इस गंभीरता को देखते हुए लखनऊ के शाही इमाम-ए-जुमा (Shahi Imam-e-Juma Lucknow) के मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने शुक्रवार की नमाज को स्थगित कर दिया है। अब अगले आदेश तक शुक्रवार की नमाज मस्जिदों में नहीं पढ़ी जाएगी।

यूपी में मास्क न पहनने पर 10000 रुपए जुर्माना, यूपी सरकार का आदेश

अगले आदेश तक इंतजार :- मौलाना कल्बे नकवी एक पैम्फलेट के जरिए कहाकि, अगले आदेश तक शुक्रवार की नमाज (Friday Prayer Suspended) पर रोक रहेगी। पैम्फलेट में जो मजमून लिखा है वह कुछ इस तरह है “इमाम-ए-जुमा के मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने आसिफी मस्जिद में शुक्रवार की नमाज को अगले आदेश तक निलंबित कर दिया है। ”

यूपी में कोरोना वायरस संक्रमण से 103 की मौत, लखनऊ में 35 ने जान गंवाई

बड़ा इमामबाड़ा बंद :- इसके अतिरिक्त लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश के आदेश पर बड़ा इमामबाड़ा समेत दूसरे स्मारकों (Monuments Closed) को फिलहाल बंद कर दिया गया है। यह सभी स्मारक अगले आदेश तक बंद किए गए हैं। जिन स्मारकों को बंद किया गया है उनमें बड़ा इमामबाड़ा, छोटा इमामबाड़ा, पिक्चर गैलरी और शाहनजफ इमामबाड़ा शामिल हैं।

आदेश न मानने पर कार्रवाई :- डीएम अभिषेक प्रकाश ने साफ-साफ कहाकि, सरकार का यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू है। आदेश न मानने पर कार्रवाई की जाएगी। लॉकडाउन की वजह से इन स्मारकों को पिछले साल मार्च में बंद किया गया था और सिंतबर में इन्हें दोबारा खोला गया था।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned