इस बार नहीं सजेंगे पंडाल, न लगेगा मेला, नवरात्र-दशहरे के लिए गाइडलाइन

नवरात्र और दशहरे के त्यौहार बस आने वाले ही हैं। पर इस बार नहीं सजेंगे पंडाल न लगेगा मेला। मां दुर्गा की प्रतिमा घर में स्थापित की जाएगी।

By: Mahendra Pratap

Published: 28 Sep 2020, 05:31 PM IST

लखनऊ. नवरात्र और दशहरे के त्यौहार बस आने वाले ही हैं। पर इस बार नहीं सजेंगे पंडाल न लगेगा मेला। मां दुर्गा की प्रतिमा घर में स्थापित की जाएगी। दशहरे पर रामलीलाओं के मंचन की पम्परा तो नहीं टूटेगी पर उसके लिए कुछ शर्तों और कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना होगा। कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह निर्देश अपने अफसरों को जारी किए हैं।

दुर्गा पूजा के सार्वजनिक आयोजन पर रोक :- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहाकि, कोरोना खतरे को देखते हुए राज्य में दुर्गा पूजा के सार्वजनिक आयोजन पर रोक रहेगी। कोई भी सार्वजनिक आयोजन सड़कों या पांडालों में नहीं होगा। जनता अपने घरों में दुर्गा प्रतिमा की स्थापना कर सकते हैं। दशहरा पर रामलीलाओं के मंचन की पम्परा नहीं टूटेगी।

रामलीला का मंचन होगा पर :- मुख्यमंत्री योगी ने कहाकि, दुर्गा पूजा में होने वाले रामलीला का मंचन कुछ शर्तों और कोरोना गाइडलाइंस के अनुरूप होगा। रामलीला का मंचन किया जा सकेगा लेकिन शर्त रहेगी कि 100 से ज्यादा दर्शक नहीं होंगे। रामलीला कमेटियों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन सख्ती से करना होगा। सैनेटाइजेशन, मास्क और हाथ धोने के निर्देशों का सख्ती से अनुपालन होगा। कोई जुलूस नहीं निकाला जाएगा। कोई मेला नहीं लगेगा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि दुर्गा पूजा का आयोजन भी सार्वजनिक नहीं होगा बल्कि लोग अपने घरों में दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित कर पूजन-अर्चन कर सकते हैं।

शादी में बैंड बाजा, रोड लाइट की अनुमति :- सीएम योगी ने कहाकि, शादी-ब्याह के आयोजनों में बैंड बाजा, रोड लाइट की अनुमति रहेगी लेकिन इसके लिए जरूरी है कि सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन करते हुए करीब 100 लोग शामिल हों, उचित सुरक्षा का ध्यान रखते हुए शादी-ब्याह का आयोजन किया जा सकता है।

संवेदनशील रहें अधिकारी :- सीएम योगी ने कहाकि, त्योहार नजदीक हैं, ऐसे में सुरक्षा और कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के सम्बन्ध में पूरी तैयारी कर ली जाए। बहन-बेटियों की सुरक्षा के प्रति खतरा बने लोगों के प्रति कार्यवाही में पूरी तत्परता बरती जानी चाहिए, इस सम्बन्ध में हर स्तर के अधिकारी संवेदनशील रहें।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned