पक्का मकान नहीं है तो बस थोड़ा इंतजार कीजिए, 25.54 लाख ग्रामीणों को सीएम योगी देंगे आवास

CM Yogi will provide 25.54 Lakh awas plus yojana villagers - केंद्र से स्वीकृत मिलने पर यूपी 2022 तक सभी आवासहीन परिवारों को आवास उपलब्ध कराने वाला बन सकता है पहला राज्य

By: Mahendra Pratap

Updated: 20 May 2021, 07:38 PM IST

लखनऊ. CM Yogi will provide 25.54 Lakh awas plus yojana villagers योगी सरकार वर्ष 2022 तक प्रत्येक ग्रामीण आवासहीन परिवार को घर देने की तैयारी कर रही है। आवास प्लस योजना में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 25.54 लाख आवास का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि, मई के अंत तक केंद्र से मंजूरी मिल जाएगी।

अब यूपी सरकार उठाएगी कोरोना वायरस से अनाथ हुए बच्चों की जिम्मेदारी

आवास के लिए करीब 1.50 लाख रुपए : केंद्र से स्वीकृत मिलने पर यूपी 2022 तक सभी आवासहीन परिवारों को आवास उपलब्ध कराने वाला पहला राज्य बन सकता है। इस योजना में एक आवास के लिए करीब 1.50 लाख रुपए प्रत्येक परिवार को दिए जाते हैं। इनमें 1.20 लाख आवास के लिए, 18 हजार मनरेगा मजदूरी और 12 हजार शौचालय के लिए दिए जाते हैं।

स्वीकृत के लिए केंद्र को पत्र लिखा : केंद्र ने 2011-12 के सर्वेक्षण में छूटे परिवारों को आवास देने के लिए आवास प्लस योजना लागू की है। इस योजना में प्रदेश के 32.86 लाख पात्र परिवार पाए गए थे। पहले चरण में गत वर्ष इनमें से 7.32 लाख परिवारों को आवास स्वीकृत कर दिया गया। अब ग्राम्य विकास विभाग ने शेष 25.54 लाख आवास इसी वर्ष स्वीकृत करने के लिए केंद्र को पत्र लिखा है।

2022 तक प्रत्येक परिवार को पक्का आवास : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक प्रत्येक परिवार को पक्का आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है। प्रदेश में 2011-12 के सामाजिक आर्थिक सर्वेक्षण के आधार पर 14 लाख से अधिक ग्रामीण परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत आवास उपलब्ध कराया जा चुका है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned